साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: लक्ष्मी सिंह

लक्ष्मी सिंह
Posts 264
Total Views 173,147
MA B Ed (sanskrit) My published book is 'ehsason ka samundar' from 24by7 and is a available on major sites like Flipkart, Amazon,24by7 publishing site. Please visit my blog lakshmisingh.blogspot.com( Darpan) This is my collection of poems and stories. Thank you for your support.

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

कविता (186 Posts)


वेद

🌹🌹🌹🌹🌹🌹 वेद सबसे प्राचीन ग्रंथ, इसमें धार्मिक पवित्र [...]

आखिर तुम कब आओगे

🌹🌹🌹🌹🌹 मेरे नयन के चांद सितारे , इस घर-आँगन के उजियारे। [...]

रिश्ते

🌹🌹🌹🌹 अब रिश्ते बस नाम के रह गये हैं, अब रिश्ते हाय-हेलो में [...]

मेरी गुड़िया

👧👧👧👧👧 आफत की पुड़िया, है मेरी गुड़िया, हरदम करती है [...]

दोहरी जिन्दगी

🌹🌹🌹🌹 सच-झूठ का मुखौटा पहन खुद से अनजान। दोहरी जिन्दगी जीने [...]

प्रकृति

🌹🌹🌹🌹 प्रकृति जो मधुर गीत गाती हैं वो सबको कहाँ सुनाई देती [...]

कृष्ण मुरारी

🌹🌹🌹🌹🌹 पाँव पायलिया अधर मुरलिया, छम-छम नाच रहे कृष्ण [...]

🇮🇳मेरे सपनों का भारत🇮🇳

🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳 मेरे सपनों के भारत का विश्व में पहला [...]

जन्माष्टमी

आओ मनाये सब मिलकर पर्व जन्माष्टमी। गली – गली सज रहे हैं दही [...]

ओ कृष्णा

🌹🌹🌹🌹 ओ कृष्णा! मौत की आखिरी क्षण तक तू मुझे थामें रख। मैं [...]

साड़ी

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 पांच-छह मीटर का लम्बा वस्त्र है साड़ी, जिसे दिल से [...]

काला धन

(१)💓💓💓💓 पूरा काला धन सफेद करने का , केन्द्र सरकार का जबरदस्त [...]

सास बिना ससुराल ना होता

💓💓💓💓 सास बिना ससुराल ना होता, सुना बंगला खंडहर सा [...]

नारी

जननी जन्मदायनी , नारी तू नारायणी। हर रूप पूजनीय , तेरा स्थान [...]

तू दुर्गा , तू पार्वती है

तू दुर्गा, तू पार्वती है । तू दुनिया की पराशक्ति है। हे [...]

क्यों परदेशी होती है बिटिया

🌹🌹🌹🌹 बाबुल के आँगन की चिड़िया, क्यों परदेशी होती है [...]

स्त्री की शक्ति

स्त्री के गर्भ से ही शुरू हो जाती है एक संघर्ष बेजुबानियाँ। [...]

हर हर महादेव

🌹🌹🌹🌹 सब देवों के देव, सारे जग में स्वमेव , उमापति महादेव, हर [...]

बुढ़ापे में प्यार

🌹🌹🌹🌹 कौन कहता है कि बुढ़ापा में प्यार नहीं होता है । सच तो [...]

फिर से मैं छोटी-सी बच्ची बन जाती

🌹🌹🌹🌹 काश एक जादू की छड़ी मिल जाती। फिर से मैं छोटी-सी बच्ची [...]

मैं और मेरी परछाई

🌹🌹🌹🌹 मैं कमरे में बैठी कर रही थी अकेलेपन से लड़ाई। सोच रही [...]

भक्ति रस

🌹🌹🌹🌹 भक्ति रस से भरे हृदय में सदा ईश्वर रहें समाई। है [...]

आतंकवाद

🌹🌹🌹🌹🌹 आतंकवाद सभ्य समाज और मानवता के लिए कलंक, सम्पूर्ण [...]

दूरियाँ

🌹🌹🌹🌹 समाज और परिवार में घट रही नजदीकियां, टूट रही है भरोसा [...]

रोटी, कपड़ा और मकान

🌹🌹🌹🌹 आम आदमी के तीन अरमान मिले रोटी, कपड़ा और मकान। जग [...]

बचपन और बारिश

🌹🌹🌹🌹 आज सुबह से ही मौसम बड़ा है अच्छा, ढ़ूढ़े मेरा मन [...]

सुन मन मेरे

🌹🌹🌹🌹 सुन मन मेरे चल आज कुछ करें मन की मन में न रहे चल कुछ [...]

घूँघट के पार

🌹🌹🌹🌹 नारी के हाथ सृष्टि की पतवार, बहुत कुछ है नारी घूँघट के [...]

भाग्य जानने की उत्सुकता

🌹🌹🌹🌹 भाग्य को जानने की आदिम उत्सुकता। देश की परम्परा कहो [...]

आषाढ़ माह की प्रथम वर्षा

🌹🌹🌹🌹 आषाढ़ माह की प्रथम वर्षा, खिली प्रकृति सर्व जग हर्षा। [...]