साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: LAKHNAWI JI (लखनवी जी)

LAKHNAWI JI (लखनवी जी)
Posts 4
Total Views 147

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

मुहब्बत💖

मुहब्बत को तेरी छुपा के सारे जहान से ; हमने तेरी आहट सुनी है [...]

माँ…….!!

तेरी आँखों में उठी हर मलालें देख लेता हूँ ; न बिखरा हो टूटकर [...]

बेटी

मेरी भी जमी है, है मेरा आसमां ; मुझे भी जीने का अधिकार चाहिए [...]

हिंदुस्तान

हिंदुस्तान आएगा !! मेरा ये हौसला देखो वतन के काम आएगा; तिरंगे [...]