साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Kaushal Meena

Kaushal Meena
Posts 3
Total Views 137
कौशल मीणा जयपुर राजस्थान मै एक कॉलेज स्टूडेंट हु , राजस्थान यूनिवर्सिटी कॉमर्स कॉलेज जयपुर एक पन्ना किताब का ही मान ले तो एहसान होगा , किताब मै लिखना बेहतर अंदाज – ए -बयाँ लगता है मुझे

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

बेटियाँ

एक बार घटित हुआ वो किस्सा फिर उसने शोर मचाया सबको जगाया जग [...]

कल

ना आज मै कल है, ना कल मै कल है, ना जीत मै कल है, ना हार मै कल [...]

ये रात की सच्चाई है

“ये रात की सच्चाई है छिपी जिसमे गहराई है” सन्नाटों मै हो [...]