साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: prerna jani

prerna jani
Posts 8
Total Views 111
ऍम . बी . ऐ . लेखक , ब्लॉगर

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

भारत माता

भारत माता की धरा है पावन धाम, जाति धर्म का नहीं बन्धन, अतिथि [...]

जय जय भारत देश

जय जय भारत देश अमेरिका के बम मानव हथियारे, रूस ,चीन के बम [...]

प्यारी स्कूल

प्यारी स्कूल , वैसे तो हम दोनों १० साल साथ में रहे और फिर भी [...]

हम कवि नही है

हम कवि नही है हम तो बस एक कारीगर है | देख कर जग की बाते लकिरो [...]

वंदना

वंदना मात शारदे कृपानिधान ज्ञानवान आज दास पे दयालुता अटूट [...]

गलत देखा जाये तो सब है और सोचा जाये तो कुछ भी नहीं

गलत देखा जाये तो सब है और सोचा जाये तो कुछ भी नहीं.. गलत देखा [...]

शहर और महानगर की दोपहर

शहर और महानगर की दोपहर महानगर से शहर लौटने पर मेरा एक लेख [...]

मातृशक्ति देवी तुझे शत् शत् नमन |

मातृशक्ति देवी तुझे शत् शत् नमन | नारी अनेक भूमिका अदा करती [...]