साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Abhishek Parashar

Abhishek Parashar
Posts 26
Total Views 1,179
शिक्षा-स्नातकोत्तर (इतिहास), सिस्टम मैनेजर कार्यालय-प्रवर अधीक्षक डाकघर मथुरा मण्डल, मथुरा, हनुमत सिद्ध परम पूज्य गुरुदेव की कृपा से कविता करना आ गया, इसमें कुछ भी विशेष नहीं, क्यों कि सिद्धों के संग से ऐसी सामान्य गुण विकसित हो जाते है।आदर्श वाक्य है- "स्वे स्वे कर्मण्यभिरत: संसिद्धिं लभते नर:","तेरे थपे उथपे न महेश, थपे तिनकों जे घर घाले तेरे निवाजे गरीब निवाज़, विराजत वैरिन के उर साले"

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

****भारत माँ का नाम बड़े शान से लिखूँ****

इंकलाब से लिखूँ, अपने ईमान से लिखूँ, अपने दिल से लिखूँ , अपनी [...]

***काश्मीर का मूल्य बहुत है***

पुष्प अपुष्प खिले बहुतेरे, पर गुलाब की महक बहुत है, भ्रष्ट [...]

****हनुमान चिन्तन=श्रेष्ठ परिणाम****

स्वर्ण जैसी कान्ति लिए हैं मेरे हनुमान, मन में विशाल रूप धरि [...]

***भारत देश अनूठा,अनुपम***

नव चिन्तन, नव मनन किया जब, यह विचार अंकुरित हुआ, अपना भारत देश [...]

**विश्वासघात = पाकिस्तान**

विश्वासघात न करो जग में, यह पाप बड़ा कहलाता है, पड़ता वह तिर्यक [...]

‼‼ याद करो भई हनुमत गर्जन ‼‼

अनायास जब संकट घेरें, शत्रु बढ़े और मति फेरें, और सतायें [...]

⛈⛈⛈दामिनी गिरी नीम वृक्ष पर जब⛈⛈⛈

भीषण कोलाहल हुआ गगन में, जब घिरी घनघोर घटायें। दामिनी गिरी [...]

🐚🐚वीर पुरुष ही वीर पुकारे🐚🐚

जग में न कोई सानी हो उस वीर पुरुष की बुद्धि का। मातृभूमि की [...]

🍁🍁🍀🍀गुल ए गुलज़ार कर🍁🍁🍀🍀

आती रहे तेरी याद कुछ ऐसे क़रार कर, करता हूँ इन्तजार अब न बेक़रार [...]

☠☠नियत नहीं है साफ तो☠☠

नियत नहीं है साफ तो, सुन लो मेरे भाया, होती जो गति वस्त्र की, [...]

✍✍इस तरह आपसे मेरी मुलाकात हो✍✍

इस तरह आपसे मेरी मुलाकात हो, खाँमोशियाँ हों ख़तम, दिल में [...]

🔥🌞🌞सूर्य अधार सब सृष्टि दिखे 🌞🌞🔥

तप अधार जग सृष्टि सजे,जिव्हा के अधार निकसति है वानी। भोजन [...]

****सहानुभूति की बातें कर लो ****

गिरा नीर नयन से झर-2 सुख हो या फिर दुःख से, हृदय तल से उठा है [...]

🌺🌺अवधूत बना बैठा यह मन 🌺🌺

अवधूत बना बैठा यह मन, करता नहीं चिन्तन विमल -विमल निर्लज्ज [...]

**जहाँ विज्ञान की इति, वहीं अध्यात्म प्रारम्भ**

जहाँ सांसारिक विज्ञान का अन्त होता है, वहीं अध्यात्म [...]

🌹🌹🍀🍀राह- ए-उलफ़त गर न मिला तो 🍀🍀🌹🌹

बे-नज़र गर किया तो ये चिराग बुझ जाएगा। राह-ए-उलफ़त गर न मिला तो [...]

॥माँसाहार मानव भोजन नहीं॥ हाइकु

माँसाहार का, प्रभाव होता बुरा, शरीर पर ॥1॥ नर हुआ है, दानव [...]

✍✍वैभवशाली भारतीय संस्कृति✍✍

सुन्दर उपवन, अंवराई की छाया में, एक सुकुमार बैठा, शंका के साया [...]

✍✍💥दो कौडी की राजनीति💥✍✍

दलित शब्द की गूँज का मचा है हाहाकार, मीरा को टक्कर देगी, [...]

💥💥✌✌मंजिल शनास बन💥💥✌✌

मंजिल आसान होती है, मेहनत के पसीने से, ज़िन्दगी जीना सीखो, [...]

💥💥✍✍चल हक़ीकत से रु -ब-रु हो जा✍✍💥💥

चल हक़ीकत से रू-ब-रु हो जा, अब जल्दी से शुरू हो जा। इतना समय दिया [...]

🌻🌻केसरी किशोर कृपा करो अब🌻🌻

केसरी किशोर निक कृपा की छोर, जा दास पे दिखा क्यों न देत [...]

🌻🌻🌻 योद्धा की परीक्षा तथा कर्तव्य 🌻🌻 🌻

योद्धा की वीरता का परिचय बस रण में ही होता है, जब उसकी चमकती [...]

बात की बात करूँगा

बात की बात करूँगा आदमी हूँ आदमी से आदमियत का ही इज़हार [...]

योद्धा का पराक्रम

हुँकार रहा, हुँकार रहा रणबीच धनुर्धर हुँकार रहा, शत्रुपक्ष [...]

वीर पुरुष की गम्भीरता।

उत्तुंग शिखर, राहें जटिल, घना अरण्य, घनघोर विभावरी, सिंह [...]