साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: अनिल कुमार मिश्र

अनिल कुमार मिश्र
Posts 12
Total Views 140
अनिल कुमार मिश्र विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में रचनाएँ प्रकाशित अशोक अंचल स्मृति सम्मान 2010 लगभग 20 वर्षों से शिक्षण एवं प्रशासनिक दायित्वों का निर्वहन सम्प्रति प्राचार्य,सी बी एस ई स्कूल निरंतर मुक्त लेखन आपके स्नेह का पात्र संपर्क-9576729809 itsanil76@gmail.com

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

गिरगिट

इस रंगीन जगत से गिरगिट तुम बाहर आ जाओ आज रंग बदलना बंद करो [...]

ज़िंदगी

जब कभी यह ज़िन्दगी बेचैन सी होने लगे करुण रस में हास्य रस का [...]

आवाज़

इन साँसों की छटपट बेचैनी को जगत् में कौन समझा है,बताओ ह्रदय [...]

बाजार

महानगर के व्यस्त,बेचैन,छटपटाते बाजार में ज़िंदगी [...]

प्रेम

रेत सी बंज़र ज़मीं पर,प्रेम का पौधा कहो कैसे लगाऊँ ढूँढूँ कहाँ [...]

ज़िंदगी

ज़िंदगी!तुम कब तक रहोगी बनकर पहेली इस ह्रदय में बोल भी [...]

माँ

माँ!तेरा स्नेह मिले प्रतिपल जीवन को आलोकित कर दो मानव सच्चा [...]

मुक्तक

लोग अपने ही मिले हर राह पर बन सके मेरे नहीं अपने कभी सब दूसरे [...]

गीत

मत ह्रदय से गीत गाओ आज तुम रहने भी दो मौन मन की बात मत दिल में [...]

बेटी

बेटी है आधार जगत का बेटी से है सार जगत का बेटी देवी,बेटी [...]

दीप मुझको बना दो ना

मुझको दीपक बना दो ना मैं तेरे अँधेरे कमरे में यूँ ही जलता [...]

हाथ धर दो

मौन मन में बात कुछ आती नहीं बस तुम मेरे हाथों में अपना हाथ धर [...]