साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Hansraj Suthar

Hansraj Suthar
Posts 7
Total Views 116

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

यकीं नही होता

गली ये मोहबत की जान पतली है चलें जो साथ दोनों इश्क़ असली [...]

होते हुए देखा

रोशन सुबह को अँधेरी शाम होते हुए देखा मोहबत मे कइयों को [...]

आवाज

सुन रहा ना कोई गरीब की आह बहरा पड़ा है ये अपना समाज जगाना है [...]

ऐ खुदा जाने

चंद खुशियो के बदले बेशुमार गम दिया है ऐ खुदा जाने केसा ये सनम [...]

याद गार

आयोजन : याद गार यात्रा शायद उतने समझदार नही थे हम लगभग उम्र [...]

रोटी और ग़ज़ल

रोटी और ग़ज़ल है एक समान खाने और पढ़ने में लगे आसान रोटी में [...]

शिकायते

वादे ज़िन्दगी भर साथ रहने के,,,, वो तो पल दो पल ठहरे है!!! दिए [...]