साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Er Dev Anand

Er Dev Anand
Posts 9
Total Views 233
दिमाग से इंजीनियर दिल से रचनाकार ! वस्तुतः मैं कोई रचनाकार नहीं हूँ, मैं एक इंजीनियर हूँ । मैं वही लिखता हूं जो मेरी आंखें देखती हैं और दिल समझता है उन्हें को कलम के सहारे में व्यक्त कर देता हूं पेज पर। बहुत ज्यादा साहित्यिक भाषा नहीं आती है। पर प्रयास रहता है ज्यादा से ज्यादा सीखने का ज्यादा से ज्यादा आपकी रचनाओं को पढ़ने का और समाज के लिए कुछ करने का।

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

14 सितंबर हिंदी दिवस

आज 14 सितंबर है आज का दिन हमारे देश के लिए और हमारे देशवासियों [...]

खुली चुनौती

नहीं माने बात हमारी किया प्रयास कई बार लेकिन हर बार समझे [...]

सवाल ????

हादसे तो हो रहे हर रोज तो क्या ? घर से निकलना छोड़ दें ! वक्त [...]

परदेसी

जब भी देखता हूं फोटो देश की अपनी इंटरनेट पर भर जाता है दिल [...]

तुम हो तो………………

तुम हो तो सब कुछ है तुम हो तो सपने हैं तुम हो तो बहुत से [...]

देशभक्ति 24×7

मत दिखाओ देशभक्ति सिर्फ 15 अगस्त और 26 जनवरी को दिखाओ [...]

कोई आने वाला है…………………

जब हर लाल में तुम्हें "बालगोपाल" नजर आए जब कोई बाल कर रहा हो [...]

फर्क

" मम्मी दादी की तबीयत अब कैसी है ? पहले से कुछ सुधार हुआ है या [...]

तुम्हारा एहसास

मौजूदगी तुम्हारी मुझे एक अलग एहसास दिलाती है मेरे हर पल को [...]