साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Dr ShivAditya Sharma

Dr ShivAditya Sharma
Posts 19
Total Views 1,712
Consultant Endodontist. Doctor by profession, Writer by choice. बाकी तो खुद भी अपने बारे में ज्यादा नहीं जानता, रोज़ जिन्दगी जैसी चोट करती है वैसा ही ढल जाता हूँ।

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

भूल गए सब राम। दीपावली विशेष।

लक्ष्मी सबको याद रहीं हैं भूल गए सब राम। कलयुग की चकाचोंध [...]

आंखें

।। आंखें।। बिना लफ्जों के ये करती हैं बातें अदा में सब बयाँ [...]

मोहब्बत

तेरे ख्वाबों को हकीकत बना तो दूूँ तेरी उम्मीदों को बालफ्ज़ [...]

बेटियां ना मुक्तक छंद

बेटियां होती है वो कोहिनूर जो अपनी होकर भी गैरों के घर रहती [...]

न्यू ईयर

नई उमंग लेके आया नया साल, नई उम्मीदों से नाता जोड़ दो रखो साथ [...]

प्यार का नशा

डरते हैं कहीं कहर ना बन जाये शाम सुहानी तपती दोपहर ना बन [...]

मोहब्बत की पहचान

मोहब्बत ना किसी से कहकर होती है जज्बातों के समन्दर में ये [...]

बचपन अच्छा था

बचपन अच्छा था, मालामाल थे अब तो भरी जेब में भी फकीरी है खरीद [...]

मर्ज-ए-इशक

ना मुझे राम ना मुझे रहीम चाहिए ना नमक फिटकरी या नीम चाहिए [...]

याद है

तेरी साँसों का वो शोर याद है बरसा था जो सावन घनघोर याद है [...]

हारना नहीं सीखा

चखे हैं जीवन के स्वाद सभी कोई फीका है कोई तीखा सबके मेल से [...]

शेर

।।फर्जी दुनिया।। बनते हैं शहंशाह, कहते हैं हम किसी से कम [...]

सरल हूं सरल लिखता हूँ

सरल हूं सरल दिखता हूं सरल हूं सरल लिखता हूं रोज देखता हूं [...]

मोदी जी

देखो कैसे बदल रहा है भारत, लेके अपना कमाल आया है अपनी माँ की [...]

जमाना हुआ खुद से मिले

वक्त मिले तो बैठूं अपने साथ की जमाना हुआ खुद से मिले। करूँ [...]

स्लेट-बत्ती सी जिन्दगी

होती जिन्दगी स्लेट-बत्ती सी तो जीना कितना आसान होता। गलती [...]

मजहब हिन्दुस्तान

ना मैं सिख ना मैं ईसाई, ना ही हिंदू मुसलमान हूं मैं। ना मैं [...]

कवि नहीं हूँ

लिखता हूँ पर कवि नहीं हूँ। दिखता हूँ पर सही नहीं हूँ। कुछ [...]

तन्हाई

मेले लगे लग के चले गए लोग खेले खेल के चले गए वहीं रहे तो बस हम [...]