साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Dinesh Dave

Dinesh Dave
Posts 16
Total Views 224
मेरा परिचय नाम दिनेश दवे पिता का नाम श्री बालकृष्ण दवे शैक्षणिक योग्यता :बी ई मैकेनिकल इंजीनियरिंग, एम बी ए लेखन एवं प्रकाशन : विगत पांच वर्षो से लेखन, अभी तक साँझा प्रकाशन , पता 2/एल आई पी एल ब्लाक, केमिकल स्टाफ कॉलोनी, बिरलाग्राम, नागदा, जिला उज्जैन, मध्यप्रदेश पिन 456331 मोबाइल 9826045953

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

शाम को तो सूरज डूबना चाह रहा है

शाम को तो सूरज डूबना चाह रहा है चाँद आसमां को चूमना चाह रहा [...]

चाँद दिन में निकलने लगा है

मेरी कलम से ... चाँद दिन में निकलने लगा है वो तो दिल में उतरने [...]

रक्षा बन्धन पर्व को समर्पित पंक्तियाँ ..

रक्षा बन्धन पर्व को समर्पित... हाँ बहन शरारती है तू कर मदद [...]

देश प्रेम की सभी बच्चों में आग तो देखो!

देश प्रेम की सभी बच्चों में आग तो देखो। देश प्रेम की कभी [...]

चाँद की रखता तो वो है चाहत!

रदीफ़ .नही है क्या! हो गया चुप बोलता नही है क्या राज दिल के [...]

अंधेरो पर उजियारे का फरमान है जिंदगी..

अंधेरो पर उजियारे का फरमान है जिंदगी.. अंधेरों पर उजियारे [...]

चाँदनी आग बन जब जलाने लगी!!

गीतिका चाँदनी आग बन जब जलाने लगी याद हमदम तेरी खूब आने लगी [...]

चाँद दिन में निकलने लगा है !!

चाँद दिन में निकलने लगा है!! चाँद दिन में निकलने लगा है वो तो [...]

बाग़ को फिर आज महका दीजिये

बाग़ को फिर आज महका दीजिये बिन पिलाये मीत बहका दीजिये ।।1 आग [...]

पानी की बून्द!

सागर कहलाती हो तुम होकर भी पानी की बून्द मत होना अलग तुम सागर [...]

नाम कैसे दे दूँ!

तेरे मेरे सपने ... अपने प्यार को सपना नाम कैसे दे दूँ सपने तो [...]

बच्चा बच्चा सिपाही है भारत माँ का

देश भक्ति पर लिखने का प्रयास .... बच्चा बच्चा सिपाही है भारत [...]

मॉर्निंग वॉक पर कुछ पंक्तियाँ..

सेहत के वास्ते मॉर्निंग वॉक ... कुछ पंक्तियाँ .. 1....कलियाँ फूल [...]

मॉर्निंग वॉक..

1....कलियाँ फूल पत्ते झुकी डालियाँ और बहती शीतल हवायें सुबह [...]

पत्थर हूँ नींव का ..नींव में ही रहूँगा

दो मुक्तक .... 1.. पत्थर हूँ नींव का ,नींव में ही रहूँगा मेरी गौरव [...]

कुछ कह ले दिल

कुछ कह ले दिल .... सागर से गहरे दिल ,फिर भी न बहले दिल कभी तो दिल [...]