साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "

भगवती प्रसाद व्यास
Posts 125
Total Views 27,167
एम काम एल एल बी! आकाशवाणी इंदौर से कविताओं एवं कहानियों का प्रसारण ! सरिता , मुक्ता , कादम्बिनी पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन ! भारत के प्रतिभाशाली रचनाकार , प्रेम काव्य सागर , काव्य अमृत साझा काव्य संग्रहों में रचनाओं का प्रकाशन ! एक लम्हा जिन्दगी , रूह की आवाज , खनक आखर की एवं कश्ती में चाँद साझा काव्य संग्रह प्रकाशित ! e काव्यसंग्रह "कहीं धूप कहीं छाँव" एवं "दस्तक समय की " प्रकाशित !

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

गीत (93 Posts)


” ——————————————– कांटों पे लेटे हैं ” !!

फौज यहां लड़ती है , नेता श्रेय लेते हैं ! शीश जहां झुकना हो , [...]

” ——————————————— पल पल को महकाऊँ ” !!

तेरे मन की भाषा जानूँ , खड़ी खड़ी मुस्काउं ! जुल्फों की जंजीर न [...]

” ——————————————- अब तक बाँच न पाया ” !!

तेरी चाहत को पूजा है , सिर माथे बिठलाया ! आँखियों में क्यों [...]

” ————————————————– सोच हो गई कैसी ” !!

यहां विदेशी शरण पा रहे इनके कई हितैषी ! देश की चिंता यहां [...]

” ————————————————– बहका नंदन वन है ” !!

रूप कटीला , नयन नशीले , बांकी सी चितवन है !! तेरे बिन सूना है सब [...]

” —————————————————— बदले से पल छिन हैं ” !!

रची बसी साँसों में हिंदी , हर दिल की धड़कन है ! हिन्द देश के हम [...]

” ——————————————– पलकें लगे सजल सी ” !!

मन की बातें कही ना जाए , खामोशी में पलती ! यही वेदना अगर मुखर [...]

” ————————————————- सबकी आंखें गीली ” !!

नही बाल्यपन रहा सुरक्षित, सोच हुई जहरीली ! ममता यहां गुहार [...]

” —————————————- आम हो गयी गाली ” !!

अपशब्दों का दौर चला है , बात बात पर गाली ! हैं विचार स्वाधीन [...]

” ———————————————- यहां कई गलियारे ” !!

हाथ बांध क़ानून खड़ा है , पीड़ित चुप हैं सारे ! कोई खुश नाखुश है [...]

” ———————————————- साँसों के मधुवन से ” !!

मुस्कानों को सरल बनाना , सीखे कोई हमसे ! मर्यादा में रहना भी [...]

” ————————————– अरमानों का खेला ” !!

थोड़ा सा विश्राम दूं तन को , मन भी लगे थकेला ! काटे से कटते ना [...]

” ————————————————– मन मयूर है नाचे ” !!

उम्र सीढ़ीयां चढ़ती जाये , यौवन भरे कुलांचे ! कैसे दिल का हाल [...]

” ————————————————– मस्ती का ऐहसास ” !!

आस लगाए बैठी जानो , अधखिले कंवल हैं हाथ ! चेहरे पर मुस्कान सजी [...]

“———————————————— आभा दिखे सुनहरी ” !!

घूँघट पट से झांक रही हो , नज़रें संग भेद भरी ! चेहरे पर रेखा [...]

” ———————————————— राहत दे जाती है ” !!

लिए बांकपन तेरी अदाएं , दस्तक दे जाती हैं ! याद तेरी जब भी आ जाए [...]

” ——————————————-जाल मस्त है बुनिया ” !!

जिसको गुरु बनाओ ठग ले , लगती है ठग दुनिया ! ठगने को बेताब लगे [...]

” ——————————————— झुके न कभी निगाहें ” !!

प्यार सभी को मन भाता है , प्यार सभी हैं चाहें ! प्यार अगर हो [...]

” ———————————————— बात कही फूलों ने ” !!

खुशबू , रंगत , सुन्दरता है , आकर्षण फूलों में ! प्यारी प्यारी [...]

” ———————————————— रिश्ते ऐसे बुनते ” !!

दाना कोई चुगाते हैं यहां , कोई दाना चुनते ! खेल चुगाना चुगना [...]

” ————————————————- चाँद भी है शर्माया ” !!

घूँघट हटा चांदनी बिखरी , शीतल शीतल छाया ! यहां वहां फैला [...]

” ————————————————- समय बड़ा चंचल है ” !!

आहट आज पवन है लाती , या मन में हलचल है ! बेकरार सी लगे निगाहें , [...]

” ——————————————- कैसे काटें रतिया ” !!

नज़र चुराकर नज़र मिलाते , होते हैं जो छलिया ! खेल खेल में हंसी [...]

” —————————————- नयना बस बहते हैं ” !!

मंत्री जी के यही आंकड़े , रोज़ शिशु मरते हैं ! और मीडिया किस्से [...]

” माँ ने किया अबोला है ” !!

काम काज है , फुरसत ना है , बांध दिया यह झूला है ! मां ने किया [...]

” ————————————— कैसे दिल बहलाएं ” !!

कठिन डगर है पग में छाले , अब तो चला न जाए ! हमराही ने बांह छोड़ [...]

” —————————————– खुशियां सभी टिकी हैं ” !!

घूँघट में है छिपी हया तो , पलकें झुकी झुकी हैं ! पल पल दिल बैचेन [...]

” —————————————– सपने कैसे पालें ” !!

कूट कूट पाषाण घड़े हैं , हैं आकार निराले ! जिन हाथों में शैशव [...]

” ————————————- हरकत मनमानों सी ” !!

सावन की रिमझिम बूंदों ने , प्यास बुझाई ऐसी ! हरियाली चुनरी ओढ़ी [...]

” —————————————– सपने हुए कपूरी ” !!

याचक बनना कौन चाहता , लेकिन है मज़बूरी ! घुटनों पर हम आ बैठे हैं [...]