साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: बबीता अग्रवाल #कँवल

बबीता अग्रवाल #कँवल
Posts 51
Total Views 3,792
जन्मस्थान - सिक्किम फिलहाल - सिलीगुड़ी ( पश्चिम बंगाल ) दैनिक पत्रिका, और सांझा काव्य पत्रिका में रचनायें छपती रहती हैं। (तालीम तो हासिल नहीं है पर जो भी लिखती हूँ, दिल से लिखती हूँ)

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

कलम को आज कागज पर

कलम को आज कागज़ पर चलाने की तमन्ना है रुबाई,गीत,गज़लों को सजाने [...]

होली हुड़दंग

त्यौहार में त्यौहार है होली का त्यौहार हैं लाल पिला हरा [...]

ख़ाक में मुझको मिलाने आ गए

जिंदगी भर जह्र पिलाने आ गये ख़ाक में मुझको मिलाने आ गये जी [...]

न जीना मुहाल कर मुझे तु जहर दे

न जीना मुहाल कर मुझे तु जहर दे कफ़स में रखे तो मेरे पर कतर दे [...]

के टूटकर बिखरे हम यहाँ उसी के लिए

चला गया वो हमें छोड़ कर किसी के लिए के टूट कर बिखरे हम यहाँ [...]

ख़्वाब आँखों में सजाना चाहिए

ख्वाब आँखों में सजाना चाहिए हसरतों को पर लगाना चाहिए रास [...]

आँख मेरी चौधिंयाये रौशनी इतनी न दे

आँख मेरी चौधिंयाये रौशनी इतनी न दे राह भटकूँ मैं मुझे तू [...]

याद तेरी रुलाये तो मैं क्या करूं

तू मुझे याद आये तो मैं क्या करूँ याद तेरी रुलाये तो मैं क्या [...]

दिल दिवाना मिरा हो गया

दिल दिवाना मिरा हो गया ये अजब हादसा हो गया क्या कहें क्या [...]

लहजा वो शराफ़त का अपनाए हुए हैं

देखा है हसीं ख्वाब वो घर आए हुए हैं हम हैं कि तसव्वुर मे ही [...]

मुझ पे मरती थी जानती हो क्या

इश्क़ था मुझसे मानती हो क्या मुझ पे मरती थी जानती हो क्या [...]

उनके बगैर जिंदगी सचमुच मुहाल है

शामो सहर उन्हीं का फक़त अब ख्याल है उनके बग़ैर जिंदगी सचमुच [...]

लाश आशिक़ की उठाई जा रही हैं

पालकी दुल्हन कि लाई जा रही हैं लाश आशिक़ की उठाई जा रही हैं [...]

उड़ा दूं न नींदे असर देख लेना

मिरा प्यार तू हमसफ़र देख लेना उड़ा दूं न नींदे असर देख लेना [...]

मुहब्बत करके वो डरता रहा है

मुहब्बत करके वो डरता रहा है सनम का नाम ही जपता रहा है मिली [...]

माँ अब बंदिश हट जाने दो

माँ अब बंदिश हट जाने दो बेटी को जग में आने दो गर्भ मे माँ [...]

आज तनहाई में जब अश्क बहाने निकले

■■■■■【 ग़ज़ल 】■■■■ आज तन्हाई में जब अश्क़ बहाने निकले तब छुपे [...]

बात मेरी सनम कुछ सुना कीजिये

बात मेरी सनम कुछ सुना कीजिये दिल में कोई न शिकवा रखा [...]

बात बेबात ही ललकार की बातें करना

बात बेबात ही ललकार की बातें करना क्यों तुझे भाये है तलवार की [...]

गर मर्ज़ है कोई तो दिखा क्यों नहीं लेते

गर मर्ज़ है कोई तो दिखा क्यों नहीं देते माक़ूल हक़ीमो से दवा [...]

पल पल जी ले नये साल की तरह

पल पल जी ले नये साल की तरह के ग़म भुला दे गये साल की तरह [...]

बुलंदीआसमानों की सितारा भी मुबारक हो

बुलंदी आसमानों की सितारा भी मुबारक हो तिरा आया जन्मदिन है [...]

चेहरे पे चेहरों को लगाने लगे हैं लोग

221 2121 1221 2121 चेहरे पे चेहरों को लगाने लगे हैं लोग फिर खुद को [...]

जो बातों से तुमने रिझाया न होता

जो बातों से तुमने रिझाया न होता तो यूं वक़्त हमने गंवाया न [...]

करो मत वार नयनों से

■■■■■■■★ ग़ज़ल ★■■■■■■■ करो मत वार नयनों से कि दिल उल्फ़त का [...]

जन्म जन्म से तुम्हारा है इंतज़ार मुझे

जनम-जनम से तुम्हारा है इंतज़ार मुझे चले भी आओ कराओ जरा दीदार [...]

ख्वाब में उनसे मिला करते हैं

ख्वाब में उनसे मिला करते हैं बात शब भर किया करते हैं चेहरा [...]

रब की मुझपर मेहर हो गई

रब की मुझपर मेहर हो गई जिंदगी मेरी बेहतर हो गई उन्हें देखते [...]

जख्म दिल का भला कैसे छिपाया होगा

जख्म दिल का भला कैसे छिपाया होगा उभरकर सामने ही दर्द जब आया [...]

नारी तेरी व्यथा अनमोल

सुरक्षित नहीं थी इस जहां में हो गई माँ की कोख असुरक्षित [...]