साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Awneesh kumar

Awneesh kumar
Posts 63
Total Views 555
नमस्कार अवनीश कुमार www.awneeshkumar.ga www.facebook.com/awneesh kumar

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

मेरे दोस्तों को ना आये ओ काम क्या करू….

(54) मेरे दोस्तों को ना आये ओ काम क्या करू साथ घूमु-घुमाऊ और काम [...]

छुट रही थी जीने मरने की ख्वाइश …..

(53) छुट रही थी जीने मरने की ख्वाइश ओ दिखी फीर से जागी उसे पाने [...]

कई जगह से दर्द उठ रहा है,लेकिन तुम्हारा ही दर्द अजीब है

(52) कई जगह से दर्द उठ रहा है,लेकिन तुम्हारा ही दर्द अजीब है [...]

मेरा आशिकों सा हाल बना दिया…..

51) मेरा आशिकों सा हाल बना दिया अपनी गलियों का पहरेदार बना [...]

ठंडे -ठंडे मौसम में तेरी याद आ रही है …..

ठंडे-ठंडे मौसम में तेरी याद आ रही है जैसे कोहरे के बाद हल्की [...]

बहोत दिनों बाद आये हो,….

(49) बहोत दिनों बाद आये हो, जैसे क़त्ल का सारा सामान लाये [...]

कोई किसी का हकदार नहीं रहता…..

कोई किसी का हकदार नहीं रहता समन्दर पार करने को पतवार नहीं [...]

दिल के अहसास जब घर मे फैल जाते है ….

दिल के अहसास जब घर में फ़ैल जाते है नाम बदल के हम कुछ और कहे [...]

सखियों के संग …..

सखियों के संग तेरा मुस्काना गजब हो गया है नजरो को झुका कर [...]

दिए के उजाले तो तमाम से हो गए…

दिए के उजाले तो तमाम से हो गए दिल के अँधेरे तो आम से हो [...]

(43) अस्क सूखे हो तो गजल बनती है …..

अस्क सूखे हो तो गजल बनती है आंख भीगी हो तो रहम मिलती है कागज [...]

अभी तक तो इस शहर को आबाद किया था……

अभी तक तो इस शहर को आबाद किया था इलाहाबाद को इलाहाबाद किया [...]

नही करेंगे उससे बात …..

नही करेंगे उससे बात, कह के खुद को बहलाना पड़ता है, साम [...]

मैं हो रहा हु तेरी बेरुखी से बाक़ीब ……

मैं हो रहा हूँ तेरी बेरुखी से वकिब् दिखावटी मोहब्ब्त् अपने [...]

जन्मदिन है आज तुम्हरा मैं मिलने को तड़पता हु…..

तुम्हारी हर बात को दिल मे उतारा कर समझता हूं साथ नही हु लेकिन [...]

जिन पर मैंने गीत लिखा था उनकी हुई सगाई है ……

जिन पर मैने गीत लिखा था उनकी हुई सगाई है जो एक गीत था मन मे उन [...]

दीये के उजाले तो तमाम से हो गए ….

दीये के उजाले तो तमाम से हो गए दिल के अँधेरे तो आम से हो [...]

शायरी को जब लफ्ज़ नही मिलता ….

शायरी को मुताबिक जब लफ्ज नहीं मिलता है तुम्हारा नाम आ जाये [...]

अक्सर लोग छोटी सी बात पे रूठ जाते है……

अक्सर लोग छोटी सी बात पे रूठ जाते है खुद पत्ता जैसे शाख से टूट [...]

चाहता हु कुछ करना पर कर नहीं पता…….

चाहता हु कुछ करना पर कर नहीं पता दूर तुम होती हो रास्ता नजर [...]

अपनी खुशी गम लगती है….

अपनी खुशी भी गम लगती है किसी की जब आंख नम लगती है मजदुर दो [...]

मोहब्बत किसी लफ्ज की मोहताज नहीं…….

मोहब्बत किसी लफ्ज की मोहताज नहीं आँखों से हो जाती है किसी की [...]

मैं लिखता हु हर फ़साना मोहब्बत के नाम का …….

मैं लिखता हु,हर फ़साना मोहब्बत के नाम का मैं लिखता हु, हर बात [...]

छोटी छोटी बातों पे हर घड़ी रूठा नही करते ….

छोटी छोटी बातों पे हर घडी रूठा नहीं करते सनम माना है तुम्हे [...]

उनकी तस्वीर छुपाये बैठा हूँ……

उनकी शीने में तस्वीर छुपाये बैठा हु कब से तेरे रस्ते पे [...]

दो लफ्जो में दसको की बात कर आये ….

दो लफ्जो में ही,दसको की बात कर आये जैसे चाँद सितारों को भी साथ [...]

दोस्तो के साथ घूमना भी जरूरी काम …..

दोस्तों के साथ घूमना भी जरुरी काम लगता है पानी भी पियो उनके [...]

बहुत कठोर नहीं है बनना पड़ता है….

बहुत कठोर नहीं है बनना पड़ता है तुम्हारे याद में मुझे जलन [...]

थोडा उदास हो जाऊ,तो लोग हाल पूछते है…….

थोडा उदास हो जाऊ,तो लोग हाल पूछते है थोडा ख़ुश हो जाऊ, तो वही [...]

जमाना खूब सूरत है समझने भर की देरी है…….

जमाना खूब सूरत है समझने भर की देरी है इस भाग दौड़ की दुनिया [...]