साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Ashish Tiwari

Ashish Tiwari
Posts 45
Total Views 2,834
love is life

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

हमको तुमसे प्यार हुआ है !

हमको तुमसे प्यार हुआ है ! ऐसा पहली बार हुआ है !! देख मधुभरी [...]

मै जुगनू हूँ रात का राजा !

लंगड़ लूला लोच नही हूँ ! किसी के सर का बोझ नही हूँ !! चम चम चमके [...]

मै लिखता जो गीत नही है जीवन की सच्चाई है !!

मै लिखता जो गीत नही है जीवन की सच्चाई है ! जब जब भी दुःखदर्द है [...]

पापा जी का गुस्सा

कक्षा १० वी की बात थी , उसदिन अमावास की रात थी !! मै लिख रहा था [...]

ग़र तू कहे तो हम सुधर जाये

अपनी वादों से हम मुकर जाये ! ग़र तू कहे तो हम सुधर जाये !! रोज़ [...]

उनसे हमारी मुलाक़ात न हो !

उनसे हमारी मुलाक़ात न हो ! कह कर मुकर जाये वो बात न हो !! साथ [...]

मम्मी की मम्मा वो धरती है नानी

आज अपने बच्चो से क्यों डरती है नानी ? शुबह शुबह काम क्यों करती [...]

तुझे पाने को सनम दिल मेरा मचलता है

तुझे पाने को सनम दिल मेरा मचलता है ! तुम्हे देखे कोई तो ये बदन [...]

खुदा करे कोई गरीब न हो

खुदा करे कोई गरीब न हो ! दुःख दर्द दिल के करीब न हो !! गरीब हो तो [...]

सबकुछ होते हुए प्यार पाया नही

प्यार दिल से किया था बताया नही ! आज तक मैंने उसको सताया नही [...]

पैरोडी

चल दिए माँ के मढ़ुलिया ओए क्या बात हो गयी ! भक्तो की माँ शारद से [...]

बेटा प्यार से कहकर पुकार दिये पापा

बेटा प्यार से कहकर पुकार दिये पापा ! बड़े दिन बाद मुझे पुचकार [...]

गुम हो गया न जाने क्या क्या करता होगा

गुम हो गया न जाने क्या क्या करता होगा ! खुदा वो कैसा होगा किस [...]

जगमगायेगा जुगनू मै ठानता हू माँ

मै तेरी हर बात दिल से मानता हू माँ ! तेरे दुःख दर्द सपने मै [...]

मम्मी मम्मा तू माता है !

मम्मी मम्मा तू माता है ! हमको तो कुछ नही आता है !! कोमल ह्रदय [...]

बड़े बिहन्ने दाई बोलय उठ दहिजार के नाती !

बड़े बिहन्ने दाई बोलय उठ दहिजार के नाती ! पढ़लिख लाला अफसर [...]

देखकर एक झोपड़ी आँख मेरी रो पड़ी

देखकर एक झोपड़ी आँख मेरी रो पड़ी ! सो रहा था एक बच्चा माँ की [...]

तितली बोली जुगनू राजा पास मुझे आ जाने दो

तितली बोली जुगनू राजा पास मुझे आ जाने दो ! भटक गयी हू पथ से [...]

दुलहिन के मुह देख के दादू दूर किहिन महतारी !

दुलहिन के मुह देखके दादू दूर किहिन महतारी ! बाप बिचारा मरय [...]

सुनि ले अम्मा कासे बोली आपन शुद्ध बघेली !!

बहुत दिना भा खाए होइगा बहुरी लाटा तेली ! अजुअव देख कहा हम [...]

मौलिक कवि हूँ मित्रों दिल के भाव लिखता हूँ ।

मौलिक कवि हूँ मित्रों दिल के भाव लिखता हूँ । रिसते पुराने जो [...]

बेला फूल पर गीत

बेला रानी रात को महके , भँवरें झूमे चुपके चुपके ! भीनी भीनी [...]

माफ किहे तै हमही अम्मा नहीं बनन अधिकारी

माफ किहे तै हमही अम्मा नहीं बनन अधिकारी ! अब रोईथे करम का अपने [...]

आया सावन सपने बुनकर !!

कल कल झरने झूमे मधुवन , आया सावन सपने बुनकर !! मोर, पपीहा, कोयल [...]

चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से

चाहता हूँ साथ में माँ भी रहे आराम से । पैर में मालिश करूँ जब [...]

देखकर दंग हूँ उसकी जादूगरी

देखकर दंग हूँ उसकी जादूगरी ! इक नजर क्या मिली दिल फ़िदा हो गया [...]

बघेली कविता

किहन रात दिन मेहनत भइलो बहुत गरीबी झेलन ! अपने खुद जीवन के [...]

परशुराम के वंसज है हम मिलकर कदम बढ़ायेगे !

परशुराम के वंसज है हम मिलकर कदम बढ़ायेगे ! हम ब्राह्मण भाई के [...]

दनकौरी काण्ड

कलम नहीँ तलवार उठा लू इन गुंडों हत्यारों पर । रक्त चढ़ा दू जी [...]

लगता है अपनों ने फंदा पिरोया होगा

मरने से पहले वो कितना रोया होगा ! पाकर सबकुछ फिर उसने खोया [...]