साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: अनुपम राय'कौशिक'

अनुपम राय'कौशिक'
Posts 5
Total Views 236

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

मेरी कली

उसकी यादों की खुशबू से, महकती है बगिया मेरी, उसका ही ज़िक़्र [...]

हे कृष्ण मेरे

सुनी-सुनी गुज़र गयी, अब की बार दीवाली भी, तुम बिन कौन निखारे [...]

यादें

सोचता रहता हूँ हर पल, अब तो बस बातें तेरी, कैसे थे वो दिन [...]

एक स्वप्न तुम्हारे साथ का

शरद पूर्णिमा का चाँद अपनी सोलहों कलाओं के साथ आकाश के मध्य [...]

टुटा हुआ तारा

दुःखों का जाल भी है, दर्द बेमिसाल भी है, फिर भी हँसते रहें [...]