साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: आनंद बिहारी

आनंद बिहारी
Posts 25
Total Views 6,349
गीत-ग़ज़लकार by Passion नाम: आनंद कुमार तिवारी सम्मान: विश्व हिंदी रचनाकार मंच से "काव्यश्री" सम्मान जन्म: 10 जुलाई 1976 को सारण (अब सिवान), बिहार में शिक्षा: B A (Hons), CAIIB (Financial Advising) लेखन विधा: गीत-गज़लें, Creative Writing etc प्रकाशन: रचनाएँ विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित FB/Tweeter Page: @anandbiharilive Whatsapp: 9878115857

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

बेटियां हैं तो आँगन है…

बेटियां हैं तो ये आँगन है, बेटियां हैं तो घर है बेटियां जग में [...]

मुझे तुमसे ही उल्फ़त हो गई है

मुझे तेरी अब आदत हो गई है। मुझे तुमसे ही उल्फ़त हो गई [...]

साकार हो स्वप्न अच्छे दिन के नए साल में

मन मस्त हो, तन स्वस्थ हो, बुद्धि सकुशल नए साल में आएं ना किसी [...]

आपने देखा मुझे और दिल दीवाना हो गया

आपने देखा मुझे और दिल दीवाना हो गया हर गली तेरा औ मेरा आम [...]

तू ले ले बाँहों में अपने तो मैं जल जाऊंगा

तू ले ले बाँहों में अपने, तो मैं जल जाऊंगा बना हूँ मोम से मैं, [...]

पहाड़ों के दरमियाँ एक नदी बहती हुई

💐हिमाचल की यादें ताज़ा करती रचना💐 पहाड़ों के दरमियाँ, एक नदी [...]

काले नोटों का कारोबार बंद हुआ

काले नोटों का कारोबार बंद हुआ.... नकली नोटों का भी बाजार बंद [...]

अब मुझे ज़िन्दगी भी दे साहिब

अब मुझे जिंदगी भी दे साहिब इक हसीं आशिक़ी भी दे साहिब। कोई [...]

वो आगे और जाना चाहता है

वो आगे और, जाना चाहता है मुकाम ऊँचा, बनाना चाहता है।1। लोगों [...]

छवि सांवली सलोनी लगते हो सबसे प्यारे

छवि सांवली सलोनी, लगते हो सबसे प्यारे जीवन में रंग भर दो, अब [...]

माँ दुर्गा-वंदना

माँ दुर्गा-वंदना तेरी चरणों में दुर्गेश्वरी हम आ गए तेरी [...]

बलिदान शहीदों का बेकार नहीं होगा

हर बार हुआ जो भी इस बार नहीं होगा बलिदान शहीदों का बेकार [...]

क्यूँ हम वीरों की शहादत भूल जाते हैं?

ग़ज़ल (23.09.2016) हर बार उसकी नापाक, आदत भूल जाते है क्यूँ हम अपने [...]

शर्म आती क्या राजधानी को???

#उरी के शहीदों को समर्पित... कौन भूलेगा इस कहानी को शहीदों [...]

मेरी बिगड़ी भी तू ही बना श्यामलं

अच्युतं केशवं कृष्णं वल्लभं स्वागतं स्वागतं स्वागतं [...]

जगह दिल में बनाना जानते है

जगह दिल में बनाना जानते है याराना भी निभाना जानते [...]

दिल में यारों रब की इबादत रहे

ताज़ी ग़ज़ल (31.08.2016) दिल में यारों रब की इबादत रहे मुझसे तुझसे [...]

जब वो मुझसे जुदा हो जाएगा

जब वो मुझसे जुदा हो जाएगा फिर तो बड़ा फ़ासला हो जाएगा।1। ख़ुशी [...]

दुआ उसकी क़ुबूल करता है

दुआ उसकी क़ुबूल करता है कांटे-कांटे को फूल करता है।1। सालों [...]

दिल उसपे आया सवेरे-सवेरे

मैं सो कर उठा था, सवेरे-सवेरे कि दिल उसपे आया सवेरे-सवेरे रज़ [...]

हम इतने दीवाने निकले

लोग हमें समझाने निकले हम इतने दीवाने निकले नज़रें मिली,बात [...]

जो कहोगे-जो करोगे वापिस मिलेगा सौ-गुना

खुद के बनाए ज़ाल में यूँ उलझकर रह गए दर्द सारे दिल के मेरे अश्क [...]

कुछ मुक्तक आनंद बिहारी के-1

💝कुछ मुक्तक आनंद बिहारी के💝 ★1★ तुझे आँखों की पुतलियों में [...]

तन्हाई अब कातिल हो गई है

ये तन्हाई अब कातिल हो गई कि अब मेरे लिए मुश्किल हो गई है तुम [...]

कैसे कहूँ कि तेरे बिना ग़म नहीं हुआ

कैसे कहूँ कि तेरे बिना, ग़म नहीं हुआ जो भी हुआ, जितना हुआ कम [...]