साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: अजीत कुमार तलवार "करूणाकर"

अजीत कुमार तलवार
Posts 419
Total Views 6,034
शिक्षा : एम्.ए (राजनीति शास्त्र), दवा कंपनी में एकाउंट्स मेनेजर, पूर्वज : अमृतसर से है, और वर्तमान में मेरठ से हूँ, कविता, शायरी, गायन, चित्रकारी की रूचि है , EMAIL : talwarajit3@gmail.com, talwarajeet19620302@gmail.com. Whatsapp and Contact Number ::: 7599235906

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

!! आखिर कब तक !!

कोई तो सीमा होगी कि तुम्हारे आने का वो समां कब आएगा और इन [...]

!! याद जो दिल से जाती नहीं !!

न कोई चिंता थी मन में न कुछ कोई कभी सोचा था वो बचपन का साथ छोड़ [...]

!! धिक्कार है मर्द होने पर तेरे !!

मर्द होने पर तू नाज करता है नामर्दगी के बहुत काम करता है हाथ [...]

!!!– पहचानो–कुत्ता कौन –!!

किसी और की कविता लिखी हुई है,,मैं सब के लिए लाया [...]

—!! गौरईया !!–

हर सुबह मेरे जागने से पहले, .इक आवाज आती थी ...... मुझ को नींदिया [...]

!! माँ- मदर डे पर विशेष !!

जिन की नहीं होती है , माँ वो लोग परेशांन होते हैं जिस के जीवन [...]

!! ले दामिनी तेरा फैसला !!

दामिनी न्याय तो तुम को मिला पर दरिन्दोन को नहीं कोई गिला [...]

!! शायद ऐसा ही होगा तेरे साथ !!

ओ लाहोर, क्यूं नहीं आता है अपनी हरकतों से बाज जब की जानता है, [...]

***दिल बहुत दुखी हुआ ***

तुम जो गुजर गए हो, दिल तो हमारा भी रोता है तुम्हारी मासूमियत [...]

!! जाकर क़त्ल कर दो उनको !!

धरती को गूँज जाने दो आसमान को फट जाने दो मत रोको अब शोलों को [...]

!! मेरा भी खून खौल रहा है !!

पाकिस्तान की बर्बरता,सेना के दो जवानों के टुकड़े टुकड़े [...]

!! थोथा चना बाजे घना !!

शोहरत और धन दौलत पर कत्ले आम हो रहा है, आज जिधर को भी देखो [...]

!! हम आपको प्यार से सलाम करते हैं !!

नफरत के काबिल समझते हो तो नफरत करो गर प्यार के काबिल समझते हो [...]

!! दे दो सेना को छूट रे !!

लिख अपने इन हाथों से तुझ को जो कुछ भी लिखना है मन के अंदर की [...]

!! कौन ज्यादा सकून में !!

आपने भी सुना है, मैने भी सुना है मेहनत की कमाई सकून देती है पर [...]

!!! दोस्त मेरे !!!

तेरे दिल के अंदाज ने मुझ को यह सिखाया कि प्यार कर मुझ से . मैं [...]

!! दुखद हो रहा है सब कुछ !!

लानत है ऐसे लोगो पर, जिनको आज भी राष्ट्रगान गाना नहीं आता और [...]

!! दुश्मन फायदा उठाएगा !!

देश के भीतर जब झगडे होंगे पडोसी देश फायदा उठाएगा किस को यह [...]

!! तेरी याद !!

आज तेरी याद आ गयी पास मेरे हम उस को सीने से लगा कर बहुत [...]

!! तुझे पाने की चाहत में !!

तुझ को पाने की चाहत में छोड़ आया सब कुछ अपना जिस को मैं कहता था [...]

!! शिकायत, आप आये क्यूं नहीं ? !!

मैने हवन पर बुलाया था, आप आये नहीं मैने कथा रखी थी, आप आये ही [...]

!! फिर फर्क क्यूं है ?!!

ईश्वर ने बनाये सब एक से फिर दिलों में फर्क क्यूं है तेरे जैसा [...]

!! शायरी !!

बड़ी तारीफ़ करते हैं लोग तेरी ख़ूबसूरती की न जाने क्या क्या बात [...]

!! कदम कदम पर धोखा !!

यह सच है, यहाँ, क्या हर जगह कदम कदम पर धोखा मिलता है लूटने को [...]

!! पिता – पिता होता है !!

जन्म देती है माँ वो विधाता की देंन है पिता भी तो उसी ऊपर वाले [...]

!! इंसानियत का धर्म निभाओ !!

इंसानियत एक सच्चा धरम है जिस को बरकरार रखना चेहरे पर ही नहीं, [...]

!! मेरे देश की सीमा !!

सीमा है मेरे देश की जानता है सारा जहान गर लांघ दी किसी ने तो [...]

!! सड़क पर गुजरती जिन्दगी !!

देखी है, जरूर देखी है सड़क पर गुजरती हुई जिन्दगी हम सब ने बहुत [...]

!! चाय की चुस्की और अखबार !!

बड़ा गहरा रिश्ता है तेरा और मेरा न जाने कब से चला आ रहा [...]

!!बेटा और बेटी – एक समान !!

बेटा वारस है, तो बेटी पारस है. बेटा वंश है, तो बेटी अंश है. बेटा [...]