साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Surya Karan

Surya Karan
Posts 15
Total Views 117
Govt.Teacher, M.A. B.ed (eng.) Writer.

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

बहुत कुछ बोलता हूँ ।।

लक्ष्य से भटकी हुई एक नाव सा । पतझड़ी वन में, मैं तरुवर ढ़ाक [...]

🍁फासला

फासला दरम्यां बस इतना सा रह गया वो टूटकर गिरा में पेड़ पर ही रह [...]

“नारी” तू बड़ी महान है।🍁

गजब सी हे हस्ती तेरी बिन तेरे हर रिश्ता अनाम है। तू माँ, बहन, [...]

जिनके लिए हमने फसादात छोड़े थे🍁🍁

जिनके लिए हमने फसादात छोड़े थे चेहरे पर वो कई नक़ाब ओढ़े [...]

मजलूमों की,कबर

जिन्हें मुफ़लिसी की, ना ज़रा सी खबर चले मजलूमों की, आवाज़ बनने [...]

🍁मेरा सफ़र

कुछ मैं कहूँ कुछ तुम सुनो ..... गुज़री जिनके ख़िदमत में उमर पीकर [...]

बड़ी नफ़रतें है दिलों में आजकल !!

बड़ी नफ़रतें है दिलों में आजकल !! मग़र दिलचस्प वाकया कुछ और ही है [...]

#नज़राना

बेमतलब की ये ; सारी दुनियादारी है । तेरे एहसान मुझपे , जिन्दगी [...]

“पाने की तलब है”

पाने की तलब है, न मुकद्दर में यकीं है मेरे कदम वहीं है ,जहाँ [...]

“बंग महान” …..??

बंगाल सांप्रदायिक घटनाओं पर लिखी "हाइकु" [...]

“मैं भारत हूँ ।”

उबल रही ज्वाला उर में तुम शांति इसे ना मानो अनुयायी मैं [...]

अँधेरा ही पायेगा

अमरनाथ यात्रा पर 10-7-2017 को हुवे आतंकी हमले पर जेहादियों को [...]

हाइकू

बंजारापन ले जायेगा मुझको तुमसे दूर ************* जल मछली तड़पे बिन [...]

क़हर

क़हर जब बरपा ग़मों का , लड़खड़ा गया मुद्दत से ख़ुदा ने मुझे ; तुमसे [...]

अब गांडीव उठाऊंगा

नहीं चाहता अहित हो , काल-कवलित हो नीतियों के कारण भार सह ना [...]