साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: आकाश महेशपुरी

आकाश महेशपुरी
Posts 75
Total Views 922
पूरा नाम- वकील कुशवाहा "आकाश महेशपुरी" जन्म- 20-04-1980 पेशा- शिक्षक रुचि- काव्य लेखन

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

गीत- आज हँसो जी भर के

आज हँसो जी भर के ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ आज हँसो जी भर के न कल [...]

ग़ज़ल- अब वक्त ही बचा नहीं…

ग़ज़ल- अब वक्त ही बचा नहीं... मापनी- 221 2121 1221 [...]

कुण्डलिया- दिल्ली की वायु

कुण्डलिया- दिल्ली की वायु ●●●●●●●●●●●●●● देखो रहकर गाँव [...]

ग़ज़ल- जिसे देखता हूँ मैं छिपकर हमेशा

ग़ज़ल- जिसे देखता हूँ मैं छिपकर हमेशा ☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆☆ जिसे [...]

ग़ज़ल- अच्छा हुआ कि यार अभी ज्ञान आ गया

ग़ज़ल- अच्छा हुआ कि यार अभी ज्ञान आ गया 221 2121 1221 212 मफ़ऊल फ़ाइलात [...]

गीतिका- जिसने खुद को है पहचाना

गीतिका- जिसने खुद को है पहचाना ◆●◆●◆●◆●◆ जिसने खुद को है [...]

ग़ज़ल- कौन दिल की आवाज सुनता है

ग़ज़ल- कौन दिल की आवाज सुनता है ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ पैसे की ही वो आज [...]

गीतिका- हँसना तो एक बहाना है

गीतिका- हँसना तो एक बहाना है ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ हँसना तो एक बहाना है। गम [...]

ग़ज़ल- ये स्वप्न…

ग़ज़ल- ये स्वप्न... मापनी- 221 2121 1221 212 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ ये स्वप्न मेरे' स्वप्न [...]

गीतिका को समर्पित गीतिका

गीतिका को समर्पित गीतिका ■■■■■■■■■■■■■■ दिल को' करती है' [...]

ग़ज़ल- ये कलयुग है…

ग़ज़ल- ये कलयुग है... _____________________________ ये कलयुग है यहाँ तो पाप को मिलता [...]

ग़ज़ल- आज ये क्या किया सनम तुमने

ग़ज़ल- आज ये क्या किया सनम तुमने ★★★★★★★★★★★★★ आज ये क्या किया [...]

एक अपदान्त गीतिका

एक अपदान्त गीतिका ................................. जब यहाँ पे झूठ का ही, है महज [...]

ग़ज़ल- ये स्वप्न ही हमें तो रुलाते हैं आजकल

ग़ज़ल- ये स्वप्न ही हमें तो रुलाते हैं आजकल मापनी- 221 2121 1221 [...]

गीतिका- क्या परी हैं आप जो जादू चलाया आपने

गीतिका- क्या परी हैं आप जो जादू चलाया [...]

ग़ज़ल- दिल ये तेरा दास है अबतक

ग़ज़ल- दिल ये तेरा दास है अबतक +-+-+-+-+-+-+-+-+-+-+-+-+-+-+-+ तू बहुत हैै दूर [...]

ग़ज़ल- धरती ने ऐसे झकझोरा

ग़ज़ल- धरती ने ऐसे झकझोरा °~°~°~°~°~°~°~°~°~°~°~° पल पल कितना डर लगता [...]

ग़ज़ल- अगर इतरा रहे हो तुम…

ग़ज़ल- अगर इतरा रहे हो तुम... ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ अगर इतरा रहे हो [...]

ग़ज़ल- नज़ारे बड़े अलहदा हो चले हैं

ग़ज़ल- नज़ारे बड़े अलहदा हो चले हैं ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ नज़ारे बड़े [...]

ग़ज़ल- मुझे आजकल नींद आती कहाँ है

ग़ज़ल- मुझे आजकल नींद आती कहाँ है ★★★★★★★★★★★★★★ मुझे आजकल [...]

ग़ज़ल- मैं तो जिन्दा हूँ रोज ग़म खा के

ग़ज़ल- मैं तो जिन्दा हूँ रोज ग़म खा के ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ यूँ हीं [...]

ग़ज़ल- चोट देने मुझे रुलाने आ

ग़ज़ल- चोट देने मुझे रुलाने आ ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ चोट देने मुझे [...]

ग़ज़ल- हमें भी तो खज़ाने का ज़खीरा मिल गया होता

ग़ज़ल- हमें भी तो खज़ाने का ज़खीरा मिल गया [...]

ग़ज़ल- ये नहीं पूछना क्या करे शायरी

ग़ज़ल- ये नहीं पूछना क्या करे शायरी ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ ये नहीं [...]

ग़ज़ल- लौटेंगे क्या जाने वाले

ग़ज़ल- लौटेंगे क्या जाने वाले ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ इतना प्यार लुटाने [...]

ग़ज़ल- रेत पर जिन्दगी

ग़ज़ल- रेत पर जिन्दगी ■■■■■■■■■■■■ रेत पर जिन्दगी का महल [...]

ग़ज़ल- सताओगे मुझे लगता नहीं था

ग़ज़ल- सताओगे मुझे लगता नहीं था ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ सताओगे मुझे [...]

ग़ज़ल- जैसे कोई अफसाना

ग़ज़ल- जैसे कोई अफसाना ●●●●●●●●●●● तुमने कब ऐसा माना था हम [...]