साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: Neeru Mohan

Neeru Mohan
Posts 73
Total Views 2,783
व्यवस्थापक- अस्तित्व जन्मतिथि- १-०८-१९७३ शिक्षा - एम ए - हिंदी एम ए - राजनीति शास्त्र बी एड - हिंदी , सामाजिक विज्ञान एम फिल - हिंदी साहित्य कार्य - शिक्षिका , लेखिका friends you can read my all poems on my blog (काव्य धारा) blogspot- myneerumohan.blogspot.com

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

****जल ही जीवन*****हाइकु कविता****

हाइकु कविता जल सबका जीवनदाता  | बिन जल मानुष | जीवन न पाता | ***** [...]

*अनुस्वार ( ं ) और अनुनासिक ( ँ ) पर करें विचार** सुगम सरल हो व्याकरण ज्ञान*

अनुस्वार ( ं ) व्यंजन है कहलाता | अनुनासिक ( ँ ) स्वर का नासिक्य [...]

***हमारी निराली मेट्रो ट्रेन*** बाल कविता

**ट्रेन है मेट्रो बड़ी निराली भू-तल से ऊपर चलने वाली समय सभी [...]

**एक-एक पौधा सभी लगाओ , पर्यावरण दिवस सार्थक बनाओ |

*पर्यावरण दिवस की सभी को शुभकामनाएँ !  वृक्षारोपण करके अधिक [...]

**वर्तनी विचार और शब्द विचार** करो सभी अब ऐसे याद** सुगम सरल हिंदी व्याकरण

वर्तनी विचार और शब्द विचार सरल सुगम करो व्याकरण ज्ञान ****** [...]

**चलो करें हम ‘वर्ण विचार’** सुगम सरल व्याकरण बोध- २

काव्यात्मक स्वरूप में हिंदी व्याकरण बोध को सरल सुगम बनाने [...]

**टिम-टिम करता सुंदर तारा**बालगीत पहेली

नई पहेलियों से सजी बालगीत पहेली *टिम-टिम करता टिम-टिम [...]

**मेरी रंग-रंगीली गुड़िया** बाल गीत

*नन्हे-मुन्ने बच्चों के लिए बाल गीत* * गुड़िया मेरी [...]

**ईश्वर की कृपा जीव लोक तक**जापानी काव्य शैली-ताँका

जापानी काव्य शैली-ताँका संरचना- 5+7+5+7+7= 31 वर्ण दो कवियों के [...]

***मन हुआ मगन प्रकृति संग***जापानी विद्या-चोका

जापानी साहित्य विद्या- चोका -5+7+5+7+5+7+5+7+7.... *मन प्रसन्न हुआ यह मगन [...]

***** सागर की गहराई****

**** *सागर ने जाकर अंत में अपने एक क्षितिज बनाया जहाँ पर उसने [...]

***जीवन का सच **कुछ मीठे कुछ खट्टे अनुभव

जीवन अगर खट्टा-मीठा ना हो तो जीवन जीने का मजा ही नहीं | फीका और [...]

***चंद्र ज्योत्सना***

*१. चाँदनीे  नग  प्रकाशित है जग श्वेत अंबर *२. सांध्यगीत [...]

***जीवन का अनुभव – एक सीख***

व्यक्ति जितना उम्र के पड़ाव को पार करता जाता है उतना ही उसे [...]

****आखिर बहू भी तो बेटी ही है***

हमेशा से देखा गया है कि बहू और बेटी दोनों में भेदभाव यह [...]

सुभग सुप्रभात !

१. अंबुद मन कर नवसृजन आलस त्यज २. अंबर तल नभचर मस्त [...]

*****भीगे नयन सांझ संग****

१. अंबुज पत्र तन्हा मन आँख में आँसू जलधि नम [...]

**** स्मृतियों के पन्ने ****(संस्मरण)

****समय पंख लगाकर कैसे उड़ गया पता ही नहीं चला | माँ का कमरे से [...]

****माँ ! आज तुम्हारी बहुत याद आई****

मेरी ओर से विश्व की सभी माताओं को मातृदिवस की बहुत-बहुत बधाई [...]

*****सूरज से थोड़ी सी गप्पें****

*दूर हो खूब मगर हमें जलाकर चले जाते हो क्या खाते हो ? जो इतने [...]

*****माँ जैसा कोई नहीं****

करुणामयी , ममतामयी होती है सिर्फ माँ सब पर प्यार बरसाने वाली [...]

****मेरे घर आई एक नन्ही परी****

*चाँद से, फूलों के रथ पर सवार घर रोशन किया है नन्हीं परी ने [...]

*****हास्य रस की गागर****

*दिया है जीवन ईश्वर ने संजोना है इसे हास्य से भरकर गागर इसकी [...]

* बेटी हुई आज पराई, छोड़ चली बाबुल अँगनाई***

बाबुल की गलियाँ छोड़ के आज बेटी अब पिया के द्वार चली मयके की [...]

*सुहानी बसंत ऋतु आई रे*

*अनंत, असीम, आलौकिक आनंद लिए अनोखी छटा छाई है | आई-रे-आई बसंती [...]

*एक प्रश्न आपके लिए* 1 मई, साल के एक दिन या हर दिन

1 मई हम मजदूर दिवस के रूप में मनाते हैं| क्यों हम एक ही दिन [...]

*भावनाओं का समंदर ‘हाइकु’के अंदर*

१. जिंदगी छोटी सुहानी अलबेली भरो उमंग २. रवि किरण छूटी [...]

*अपनी संस्कृति को पहचानो* जागो ! हिंदुओं जागो !

*अप्रैल फूल कहने से पहले वास्तविकता इसकी क्यों नहीं जान रहे [...]

***भारत देश के वासी हो तुम**इस मिट्टी पर अभिमान करो**

*भारत माँ के लाल हो तुम इस माता का सम्मान करो तीन रंग का मान [...]