Apnaapan

Priyamvada Sharma

रचनाकार- Priyamvada Sharma

विधा- मुक्तक

तू मेरा ना हो पाया तो कोई बात नही
पर हिफाजत से रखने अपने आप को
मैने हर पल अपने में तुझ को जिया है

प्रियमवदा शर्मा

बेहतरीन साहित्यिक पुस्तकें सिर्फ आपके लिए- यहाँ क्लिक करें

इस पेज का लिंक-
Sponsored
Author
Priyamvada Sharma
Posts 5
Total Views 17
Sabhii mitro ko mera pyari bhara namaskaar Mene is platform k madyam se apne vicharo ko prakat krne ka sobhagya prabt kiya h isliye me apne apkoo bhut mahaan mehsoos kr rhi hu asha krti hu jo kch b me likhu aap sab ko pasand aye

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


Sponsored
हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia