🙏 शुभ रक्षापर्व 🙏

तेजवीर सिंह

रचनाकार- तेजवीर सिंह "तेज"

विधा- घनाक्षरी

🌹🌻 शुभ रक्षापर्व 🌻🌹
🌴🌹🌻🌺🌼🌺🌻🌹🌴

येन बद्धो बलि राजा
दानवेन्द्रो महाबलः
तेन त्वां प्रतिबद्धामि
रक्षे माचल्माचला।

सूत्र पाठ सह बंधे
मौलि निज भ्रात कर
बने संयोग दुर्योग
सब होय उज्ज्वला।

मङ्गल की कामना है
छांव है ममत्व भरी
भावना की डोर करे
भ्रात का सदा भला।

'तेज' का आशीष मिले
साथ सुख-सम्पति के
रक्षपर्व शुभकारी
प्रीत-पर्व निश्चला।

🌴🌹🌻🌺🌼🌺🌻🌹🌴
🙏तेज मथुरा✍

Sponsored
Views 2
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
तेजवीर सिंह
Posts 86
Total Views 1.2k
नाम - तेजवीर सिंह उपनाम - 'तेज' पिता - श्री सुखपाल सिंह माता - श्रीमती शारदा देवी शिक्षा - एम.ए.(द्वय) बी.एड. रूचि - पठन-पाठन एवम् लेखन निवास - 'जाट हाउस' कुसुम सरोवर पो. राधाकुण्ड जिला-मथुरा(उ.प्र.) सम्प्राप्ति - ब्रजभाषा साहित्य लेखन,पत्र-पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन तथा जीविकोपार्जन हेतु अध्यापन कार्य।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia