होली

sudha bhardwaj

रचनाकार- sudha bhardwaj

विधा- कविता

होली

रास रंग का पर्व है आया।
आओ मिल-जुल खेले होली।
स्वागत करती आप सभी का।
अपनी रंग-बिरंगी टोली।
छोड़ेंगे हम एक दूजे पर।
हास विलास रंगो की गोली।
सराबोर हो बोलेंगे फिर।
आज है रंग-बिरंगी होली।

सुधा भारद्वाज
विकासनगर उत्तराखण्ड

Views 6
Sponsored
Author
sudha bhardwaj
Posts 48
Total Views 607
इस पेज का लिंक-

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


Sponsored
Related Posts
हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia