सोशल मीडिया 3

Kaushlendra Singh Lodhi

रचनाकार- Kaushlendra Singh Lodhi

विधा- कुण्डलिया

इंटरनेट ईश्वर नहीं, जिओ न जीवन जान।
मोबाइल मत मोह रख, डिस्प्ले दरश न मान।।
डिस्प्ले दरश न मान, ज्ञान गपशप न केवल।
Fb नहीं चरित्र, नहीं ट्विटर में हर हल।।
कहि कौशल कविराय, कर्म कर लो कर में सेट।
असली जीवन जान, निकल बाहर इंटरनेट।।

गपशप = व्हाट्सएप
FB= फेसबुक

बेहतरीन साहित्यिक पुस्तकें सिर्फ आपके लिए- यहाँ क्लिक करें

Views 5
इस पेज का लिंक-
Sponsored
Recommended
Author
Kaushlendra Singh Lodhi
Posts 11
Total Views 264
कौशलेन्द्र सिंह लोधी "कौशल" कवि नि. मतरी बर्मेन्द्र, तहसील-उन्चेहरा, जिला-सतना (म.प्र.) I राजस्व निरीक्षक पद पर तहसील-पलेरा, जिला-टीकमगढ़ (म.प्र.) में सेवारत I शिक्षा - बी.एस-सी.(MPG)

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


Sponsored
हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia