शेर :– बहुत हुआ समझौता अब ऐ पाक तुम्हारी बारी है !!

Top 30 Post

Anuj Tiwari

रचनाकार- Anuj Tiwari "इन्दवार"

विधा- शेर

पाक तुम्हारी बारी है ……!!

बहुत हुए समझौते अब सुन पाक तुम्हारी बारी है ।
हमने तो भाई समझा था पर तुझमे मक्कारी है ।
बहुत लडाई की जो तूने कायर बेईमानी से
जंग कहा इसको जो तूने, ये जंग नहीँ गद्दारी है !!

तेरी नापाक इरादो का , जब उफान भर आयेगा !
जरा सा फूकार दिया हमने , तूफान खडा हो जायेगा !
पहचान बदल देंगे तेरी ,तेरे भौगोलिक मापो से
कश्मीर हथियाने का तेरा , अरमान धरा रहजायेगा !!

अब तक तुझे जो वक्ष दिया, ये अपनी खुद्दारी है !
हमने तो तुझे ……..!!

है गुरूर इतना अगर , पाक तुझे इस्लाम पर !
आकर भारत की सीमा मे , जंग का ऐलान कर !
कराची को चाची बना , हम चरखा पकड़ाएगे
काबुल को बुलबुल बना , ब्याह रचा घर लाएंगे !

हर बार जंग मे तो , तेरी सेना ही हारी है !
हमने तो तुझे………!!

गर तूने आख दिखाई , हम आख नोचेगे !
तेरे तसब्बुर से तुझको धर दबोचेंगे !
फिर कितनी भी रहम की भीख मागे तू
भूल कर इन्सानियत , तेरे जख्मो को खरोचेंगे !!

बिना लात के बात न माने , तू ऐसा धुत्कारी है !
हमने तो तुझे ………!!

जहाँ चहक रहा था बचपन हरदम , आज वहा खामोशी है !
तोड दी सारी हदें .., तू इन्सानियत का दोशी है !
क्या समझेगा तू नातो कि अहमियत को
ना तू भाई बन सका , ना तू नेक पड़ोसी है !!

हर एक वीर यहा का, हरदम आज्ञाकारी है !
हमने तो तुझे ……….!!

Anuj Tiwari"Indwar"

Views 1,375
Sponsored
Author
Anuj Tiwari
Posts 99
Total Views 13.7k
नाम - अनुज तिवारी "इन्दवार" पता - इंदवार , उमरिया : मध्य-प्रदेश लेखन--- ग़ज़ल , गीत ,नवगीत ,कविता , हाइकु ,कव्वाली , तेवारी आदि चेतना मध्य-प्रदेश द्वारा चेतना सम्मान (20 फरवरी 2016) शिक्षण -- मेकेनिकल इन्जीनियरिंग व्यवसाय -- नौकरी मोबाइल नम्बर --9158688418 anujtiwari.jbp@gmail.com
इस पेज का लिंक-

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


Sponsored
Related Posts
हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia
16 comments