लौट के आ जाओ तुम

सतीश चोपड़ा

रचनाकार- सतीश चोपड़ा

विधा- गीत

लौट के आ जाओ तुम मुझपर ये रहम कर दो
मुश्किलहै तुम बिन जीना नजर एकइधर कर दो

ना धड़कन चलती है हुई सांसे भी मद्धम
चुप रह कर देख लिया घुटता जाता है दम
झलक एक दिखाकर मुझपे अहसान जरा कर दो

खुश रहता हूँ मैं तब होती हो जब तुम संग
अब भूल गया जीना हुई जिन्दगी भी बेरंग
कहीं जल ना जाए ये तन मिलकर शीतल कर दो

तुम रहती हो जब पास मन फूल सा खिलता है
बिन तेरे सावन भी मुझे पतझड़ लगता है
ले जाओ तुम जान मेरी कम बोझ मेरा कर दो

Views 52
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
सतीश चोपड़ा
Posts 13
Total Views 4.3k
नाम: सतीश चोपड़ा निवास स्थान: रोहतक, हरियाणा। कार्यक्षेत्र: हरियाणा शिक्षा विभाग में सामाजिक अध्ययन अध्यापक के पद पर कार्यरत्त। अध्यापन का 18 वर्ष का अनुभव। शैक्षणिक योग्यता: प्रभाकर, B. A. M.A. इतिहास, MBA, B. Ed साहित्य के प्रति विद्यालय समय से ही रुझान रहा है। विभिन्न विषयों पर लेख, कविता, गजल व शेर लिखता हूँ। कलम के माध्यम से दिल की आवाज दिलों तक पहुँचा सकूँ इतनी सी चाहत है।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia