राजनीती और विज्ञान

Ashutosh Jadaun

रचनाकार- Ashutosh Jadaun

विधा- अन्य

राजनीतिक गतिकी का नियम :-
राजनेता ना निर्मित होते है , ना ही नष्ट किये जाते है ,
सिर्फ एक रूप से दुसरे रूप मे परिवर्तित होते है ,उदाहरण :- मनमोहन सिंह से नरेंद्र मोदी ( गूँगी फ़िल्म से फेकू उपकरण )।
अनउपयोगिता का नियम:- वे राजनितिक मुद्दे या दल के अभिन्न अंग धीरे धीरे विलुप्त हो कर अवशेष मात्र रह जाते है , जिन से लाभ न हो । उदाहरण :- दिल्ली और बिहार के आम चुनाव के बाद बीजेपी का हिंदुत्व के मुद्दे से कन्नी काटना।
राजनितिक एन्ट्रोपि का नियम :- राजनीती मे ईमानदारी का मान कुर्सी के लालच के व्युतकमानुपाती होती है ।
उदाहरण:- मुफलर-धारी , क्रांति-वीर , सत्याग्रही , अन्ना'ज सेरोगेट पुत्र ,मोदी नाम उचारक, केजरीवाल का मुख्यमंत्री बनना।

Sponsored
Views 5
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Ashutosh Jadaun
Posts 32
Total Views 219
स्वागत हैं मेरे जज्बात साज़ गीतों में. कभी जब मैं यूँ ही तन्हा बैठता हूँ ,और अचानक ही पुरानी यादों की बारिशें,मेरे जेहन में बेतरतीब से ख्याल बूँद बनकर, मेरी कलम से कागज़ पे लफ्ज़ उकेरने को मचलने लगती है II

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia