मेरे जज्बात

सन्दीप कुमार 'भारतीय'

रचनाकार- सन्दीप कुमार 'भारतीय'

विधा- कविता

मेरे जज्बात
*********
जब भी देखता हूँ मैं तुझे
मेरा दिल भर आता है
कितनी खुशमिजाज है तू
कितनी खूबसूरत है तू
कितनी दिलकश है तेरी सादगी
मुझसे बेहतर कौन जानता है
चाहते तो सभी होंगे तुझे
मुझसे बेहतर कौन तुझे चाहता है
तेरी उदासी से डरता हूँ मैं
इसिलिये तुझे खुश रखता हूँ
तेरी आवाज डगमगाती है
मैं बेचैन हूँ जाता हूँ
तू मुस्कुराती है
मैं मुस्कुराता हूँ
मैं नहीं जानता
तू मुझे कितना समझती है
मुझे लगता है
मैं तेरी हर धड़कन को समझता हूँ
तू मेरी हर धड़कन में बसती हैं
यूँ तो मैं हर वक़्त सांस लेता हूँ
लेकिन बस तेरे ही साथ जीता हूँ मैं
जी लेना चाहता हूँ हर पल को तेरे संग
पा लेना चाहता हूँ हर अधूरी ख़ुशी
दे देना चाहता हूँ खुशियाँ तुझे भी
जो तुझे कभी मिली ही नहीं
मुझे पता है तू हासिल नहीं मुझे
फिर भी तुझे खोने से डरता हूँ
मेरा एहसास है तू
मेरे लिए बहुत खास है तू
एक छोर अगर मैं हूँ ज़िन्दगी का
इस डोर का दूसरा छोर है तू

"सन्दीप कुमार"

Views 51
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
सन्दीप कुमार 'भारतीय'
Posts 61
Total Views 5.7k
3 साझा पुस्तकें प्रकाशित हुई हैं | दो हाइकू पुस्तक है "साझा नभ का कोना" तथा "साझा संग्रह - शत हाइकुकार - साल शताब्दी" तीसरी पुस्तक तांका सदोका आधारित है "कलरव" | समय समय पर पत्रिकाओं में रचनायें प्रकाशित होती रहती हैं |

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia