“मेरे चले जाने के बाद”

indrajeet singh lodhi

रचनाकार- indrajeet singh lodhi

विधा- गज़ल/गीतिका

मेरे चले जाने के बाद थोड़ा सा गम कर लेना।
जब याद आए तुम्हें हमारी आॅखोंको नम कर लेना।।
सताया है बहुत हमने ,अब और ना सतऐंगे।
नहीं जानता है दिल मेरा,तुम बिन कैसे रह पाऐंगे।।
तन्हाईयों के सहारे जीने का दम भर लेना।
मेरे चले जाने के बाद——————-
कश्मे वादे प्यार वफा को तूने न जाना।
दिल में तेरे रहते रहे हम फिर भी न पहचाना।।
जब मैयत मेरी निकले तेरे दर से अश्कों का दरिया भर लेना।
मेरे चले जाने के बाद———————
तेरे वादों पे करके भरोसा हमें ये शिला मिला है।
लगाया जो दिल आपसे हमे दर्दे दिल मिला है।
मेरी यादों का चाॅद ना आए नजर तो अंधेरों से दोस्ती कर लेना।
मेरे चले जाने के बाद ———————-

रचयिता-इन्द्रजीत सिंह लोधी

Sponsored
Views 43
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
indrajeet singh lodhi
Posts 5
Total Views 142
योगाचार्य और रंगकर्मी के रूप अपने को स्थापित किया लिखने का शौक वचपन से ही रहा आकाशवाणी से रचनाऐं प्रसारित ।गद्द एवं पद्द दोनों पर लिख रहा हूं अभिनय एवं निर्देशन में कार्यरत

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia