बाल कविता —टेडी बियर

लक्ष्मी सिंह

रचनाकार- लक्ष्मी सिंह

विधा- कविता

बाल कविता—टेडी बियर
🐻🐻🐻🐻🐻🐻🐻
टेडी बियर, टेडी बियर,
तुम हो कितना प्यारा।
नर्म मुलायम, कोमल,
मनमोहक रूप तुम्हारा।
🐻🐻
मम्मी-पापा आॅफिस जाते,
घर में एक तू ही तो रहता।
मेरे अकेलेपन का साथी,
मेरा टेडी बियर बनता।
🐻🐻
मेरे सुख दुःख का साथी,
दूर करे तू मेरी उदासी।
मेरे तन्हा जीवन में तूम,
रंग खुशियों का भरता।
🐻🐻
संग तेरे मैं खेलती कूदती,
साथ मेरे तू हर पल रहता।
मेरी मन की सारी बातें,
चुपचाप तू ही तो सुनता।
🐻🐻
छोड़ तुझे स्कूल जब जाती,
कितना याद तुझे मैं करती।
वापस आके तुम से लिपट,
कितना प्यार तुझे मैं करती।
🐻🐻
सुबह आँख खोलूँ तुझे पाऊँ,
रात को बाहों में भर सो जाऊँ।
मेरी सारी दुनिया, मेरी खुशियाँ,
इक तुझ में ही है समाया।
🐻🐻
ओ मेरे प्यारे टेडी बियर,
तुम हो कितना प्यारा।
नर्म मुलायम, कोमल,
मनमोहक रूप तुम्हारा।
🐻🐻🐻🐻 —लक्ष्मी सिंह 💓☺

Views 119
Sponsored
Author
लक्ष्मी सिंह
Posts 115
Total Views 27.6k
MA B Ed (sanskrit) please visit my blog lakshmisingh.blogspot.com( Darpan) This is my collection of poems and stories. Thank you for your support.
इस पेज का लिंक-

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


Sponsored
Related Posts
हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia