” —————————————————— बदले से पल छिन हैं ” !!

भगवती प्रसाद व्यास

रचनाकार- भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "

विधा- गीत

रची बसी साँसों में हिंदी , हर दिल की धड़कन है !
हिन्द देश के हम रहवासी , हिंदी जीवन धन है !!

हिन्दी घुट्टी में मिलती है , साथ चले अंग्रेजी !
हिन्दी अंगीकार करें तो , शिक्षण ज्यों चन्दन है !!

हम पिछड़े थे हुये अग्रणी , हिन्दी की माया है !
हिन्दी भाषी चढ़े शिखर अब , आया परिवर्तन है !!

सबने दिल से अपनाया है , अवलम्बन ना छूटा !
अंग्रेजी अब बनी सहायक , बदले से पल छिन हैं !!

बड़ी जरूरत हमें अभी हैं , विशेषज्ञ हम चाहें !
भाषा का जादू छायेगा , आने वाले दिन हैं !!

बृज व्यास

Sponsored
Views 29
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
भगवती प्रसाद व्यास
Posts 122
Total Views 29.1k
एम काम एल एल बी! आकाशवाणी इंदौर से कविताओं एवं कहानियों का प्रसारण ! सरिता , मुक्ता , कादम्बिनी पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन ! भारत के प्रतिभाशाली रचनाकार , प्रेम काव्य सागर , काव्य अमृत साझा काव्य संग्रहों में रचनाओं का प्रकाशन ! एक लम्हा जिन्दगी , रूह की आवाज , खनक आखर की एवं कश्ती में चाँद साझा काव्य संग्रह प्रकाशित ! e काव्यसंग्रह "कहीं धूप कहीं छाँव" एवं "दस्तक समय की " प्रकाशित !

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia