पत्नी की भूमिका

Rashmi Porwal

रचनाकार- Rashmi Porwal

विधा- अन्य

अगर पत्नियां बुरी होती हैतो लोग शादी क्यों करते हैं ?अक्सर शादी शुदा लोग कहते हैं कि हम शादी करके फंस गए हैं, तू मत फंसना.पत्नियां बुरी होती हैं, बेकार होती हैं, पति पर शक करती हैं, बात बात पर टोकती है.पड़ोसी से बात तक नहीं करने देती.अगर ऐसा है तो फिर बाकि लोग शादी क्यों करते हैं,पत्नियां बुरी होती है, ये जानने के बाद भी.कई लोग पत्नी की comparison लड्डू से करते हैं,खाओ तो गलत, न खाओ तो भी गलत.कहते हैं जो खाये वो पछताएजो न खाए वो भी पछताएपत्नी की compare लड्डू से, बेवकुफ कहीं के,शायद उन्हें ज़रा भी अक्कल नहीं है कि आखिर ये पत्नी है क्या, पत्नी की अहमियत क्या है ?क्या पत्नी के बिना आपका घर संसार है क्या ?एक लड़की, एक बेटी, अपना घर छोड़कर आपके घर आपकी पत्नी, घर की बहु बनकर आती है, और आप उन्हें बुरी कहते हो ?बेशर्म कहीं के.पूरा घर सम्भालती है आपकाआपके एक एक चीज का ध्यान रखती हैहर चीज गलत जगह से उठाकर, सही जगह रखती हैसम्पूर्ण जीवन आपके नाम तक कर देती हैं,आपको बेटी/बेटे की सौगात देकर, आपका घर रोशन करती है.आपको हर गलत कार्य करने से रोकती है.अगर आप अकेले हो तो आपको पत्नी होने के बावजूद, आपको बहन भाभी माँ के जैसा प्यार देती है.आपकी salary कम हो, तो भी वो चूं तक नहीं करती.आपके बुरे वक़्त में, दुःख दर्द में साथ देती हैंबीमार होने पर आपको बच्चे से भी बढ़कर प्यार देती हैं.आपका पूरा घर परिवार सम्भालती है.फिर भी कई बेशर्म लोग कहते हैं कि पत्नी बुरी होती है, गलत होती है, टोकती हैअरे, अगर आपगलत काम करोगे तो आपको टोकेगी ही न ?इसमें बुरा क्या है ?इसमें फायदा किसका है?आपका ही न ?फिर आपकी पत्नी गलत या बुरी क्यों ?पत्नी कोई लड्डू नहीं है परखुदा की वो नहिमत है, खुदा की वो अनमोल देन है, जो नसीब वालों को ही मिलती हैअगर आप शादी शुदा हैंतो खुद को खुशकिस्मत समझिए, भाग्यवान समझिएकि कोई तो आपकी care करने वाला है.कोई तो आपका साथ देता हैवरना आपके mom dadके बाद, आपको कौन पूछेगाभाई, हिसांब कीजिये, कितने घर के भाई आज कल एक साथ रहते हैं,आपकी बहन, जो शादी के बाद, ससुराल चली जायेगीपत्नी नहीं तो अकेले ही रहोगे, पागल हो जाओगे,खुद के बाल नोचने लगोगे.बीमार होंगे, bed पर होंगे तो कोई पूछने नहीं आएगा.इसलिए हमेशापत्नी की respect करें,पत्नी को हर ख़ुशी देंपत्नी बुरी नहीं बहुत ही भोली होती हैं, आपका हमसफ़रआपकी जीवनसाथीआपके दुःख सुख का साथी.उम्मीद करते हैंशादी शुदा लोग खुद को भाग्यवान समझेंगें, और अपनी पत्नी से कभी भी गलत बात या गलत व्यवहार नहीं करेंगें पत्नी को लड्डू नहीं कहेंगेंक्योंकि पत्नी के सिवाआपका घर नहीं संसार नहीं और आप पत्नी के साथ के बिना, कुछ भी नहींकुछ भी नही।

Sponsored
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Rashmi Porwal
As a student Love is life

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia