धीरे-धीरे तुझको भी प्यार हो जायेगा

Govind Kurmi

रचनाकार- Govind Kurmi

विधा- कविता

देखकर मुझको तेरा दिल खो जायेगा ।

धीरे-धीरे तुझको भी प्यार हो जायेगा ।

तेरी रातों में भी मैं ख्वाबों में भी आऊंगा ।

ना नींद आयेगी तुझको हरपल मैं सताऊंगा ।

तु पागल मत होना हर जगह नजर मैं आऊंगा ।

हवाओं में महसूस करेगी तुझे इश्क की शैर कराऊंगा ।

तु दुनिया भूल जायेगी तुझे अपनी दुनिया दिखलाऊंगा ।

तेरी आंखों में भी मैं सांसों में भी बस जाऊंगा ।

राह मेरी भी तु देखेगी जब याद तुझे मैं आऊंगा ।

आयेगी दौडी़ तु जब दिल से तुझको मैं बुलाऊंगा ।

जब तु समझेगी प्यार मेरा वो पल भी जल्दी आयेगा ।

देखकर मुझको तेरा दिल खो जायेगा ।

धीरे-धीरे तुझको भी प्यार हो जायेगा ।

Views 91
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Govind Kurmi
Posts 38
Total Views 3.1k
गौर के शहर में खबर बन गया हूँ । १लड़की के प्यार में शायर बन गया हूँ ।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia
2 comments
  1. रूपांतरण बहुत सुंदर है , ठीक इसी तरह अपने विचारों व जीवन-शैली का भी रूपांतरण करो पुत्र ताकि- तुम्हारी रचनाओं में साहित्यिकता की झलक भी मिलने लगे ।