दिवाना मै तेरा दिवाना

Zo Zo Sandeep Yadav

रचनाकार- Zo Zo Sandeep Yadav

विधा- गीत

🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷
जानेंजाना मेरी जानेंजाना
दिवाना मै तेरा दिवाना।
रातभर याद में यूँ रुलाती थी तुम
प्यार करता था मै और सताती थी तुम
आँसु गिरते हैं आँखों से मेरे सनम
गिरते आँसु को ना रोक पाना।
दिवाना मै तेरा दिवाना।।

प्यार होता है क्या ये बतायी थी तुम
प्यार का व्याकरण भी पढ़ायी थी तुम
सच ये कहता था सारा जमाना
दिल किसी के ना दिल से लगाना।
दिवाना मै तेरा दिवाना।।

तुम क्या जानो मेरे दिल में कितना है गम
तोड़कर सारे वादे व सारी कसम
दिल से मुश्किल है तुमको भुलाना।
दिवाना मै तेरा दिवाना ।।
🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷
संदीप यादव
(आजमगढ)

Views 21
Sponsored
Author
Zo Zo Sandeep Yadav
Posts 10
Total Views 101
संदीप यादव अजगरा,अतरौलिया। जिला:- आजमगढ़ विधा:- गजल,गीत व मुक्तक ।।
इस पेज का लिंक-

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


Sponsored
Related Posts
हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia