वो एक सीधी सी लड़की…..

pratik jangid

रचनाकार- pratik jangid

विधा- लेख

तुम चुप थी तलाब की तरह ।
फिर लहरो की तरह बहने लगी ।।

तुम खुश थी ,फूलो की तरह ।
फिर काटो की तरह सबको चुबने लगी ।।

तुम खुद नही बदली ।
परिस्थितयो ने तुमको बदल डाला ।।

इक सहमी हुई सी लड़की को ।
शमशीर बना डाला ………।।

Sponsored
Views 40
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
pratik jangid
Posts 18
Total Views 381

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia