**झंडा ऊँचा रहे हमारा**

Neeru Mohan

रचनाकार- Neeru Mohan

विधा- कविता

जिसकी मिट्टी की खुशबू भी

चंदन के जैसी लगती है ।।

जिसकी ठंडी और शीतल वात

मलय की भाँति बहती है ।।

जिसके लोगों में अपनापन

उनका अस्तित्व बनाता है ।।

एकता और भाईचारा

हर कदम पर मुस्काता ।।

****वही है भारत देश महान
हम सबका प्यारा हिंदुस्तान ।।

जिसके शीर्ष पर हिमालय

हिमताज पहन खड़ा है।।

जिसके क्षितिज के छोर पर

अरुणकर प्रकाश भरा है ।।

उषा की किरण उगाता अरुण

जहाँ नया सवेरा लाता हैं ।।

रात्रि के तम में भी जहाँ

रोशन जग हुआ जाता है ।।

****वही है भारत देश महान
हम सबका प्यारा हिंदुस्तान ।।

जहाँ तिरंगे के तीन रंग की

आन-बान-शान निराली है ।।

जहाँ वीरों की कुर्बानी

वतन पर ज़ाया न जाती है ।।

जहाँ हर कोम, धर्म, जाति

भाईचारें का सूत्र बनाता है ।।

अनेकता में एकता का सूत्र जहाँ

हर पग पर बांधा जाता है ।।

****वही है भारत देश महान
हम सबका प्यारा हिंदुस्तान ।।

देते हैं अपनी जान वतन पर

हर वीर वह भारतवासी है ।।

दुश्मनों को धूल चटाने वाले

सरहद के वीर हिंदुस्तानी हैं ।।

धरती पर करे जो जान निसार

पाषाण जिगरधारी बलिहारी है ।।

अपनी मिट्टी के मान की खातिर

जहाँ न्यौछावर हर देशवासी है ।।

****वही है भारत देश महान
हम सबका प्यारा हिंदुस्तान ।।

वंदे मातरम !

Views 21
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Neeru Mohan
Posts 86
Total Views 4k
व्यवस्थापक- अस्तित्व जन्मतिथि- १-०८-१९७३ शिक्षा - एम ए - हिंदी एम ए - राजनीति शास्त्र बी एड - हिंदी , सामाजिक विज्ञान एम फिल - हिंदी साहित्य कार्य - शिक्षिका , लेखिका friends you can read my all poems on my blog (साहित्य सिंधु -गद्य / पद्य संग्रह) blogspot- myneerumohan.blogspot.com

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia