जाने क्या-क्या लिखूं

दुष्यंत कुमार पटेल

रचनाकार- दुष्यंत कुमार पटेल "चित्रांश"

विधा- कविता

हाले दिल की दास्तां लिखूं
मधुर मिलान की यादें लिखूं
छम-छम बरसता सावन
या केशु की महकती खुशबू
जाने क्या-क्या लिखूं …….

तेरी नखरे-शरारत लिखूं
शोख बलखाती जवानी लिखूं
छुप-छुप देखने की बाते लिखूं
या चाँद सी मुस्कुराहट लिखूं
जाने क्या-क्या लिखूं …….

रंग-बिरंग हंसी सपने लिखूं
तुझे बुलाती रूमानी शाम लिखूं
तेरी कोयल सी मीठी आवाज़ लिखूं
तेरी धानी चुनरी में मेरा नाम लिखूं
जाने क्या-क्या लिखूं …….

मद-भरी गुलाबी रुखसार लिखूं
तेरी नैनो की काली घटा लिखूं
प्रेम मस्ती भरी कोई गीत लिखूं
या बचपन की प्रेम कहानी लिखूं
जाने क्या-क्या लिखूं …….

लड़कपन की मस्ती छेड़खानी लिखूं
या रोमांटिक शायरी-गजल लिखूं
तेरे नाम सारी जिंदगानी लिखूं
ये “दुष्यंत” के प्रेम दीवानी
जाने क्या-क्या लिखू …….

Views 41
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
दुष्यंत कुमार पटेल
Posts 91
Total Views 4k
नाम- दुष्यंत कुमार पटेल उपनाम- चित्रांश शिक्षा-बी.सी.ए. ,पी.जी.डी.सी.ए. एम.ए हिंदी साहित्य, आई.एम.एस.आई.डी-सी .एच.एन.ए Pursuing - बी.ए. , एम.सी.ए. लेखन - कविता,गीत,ग़ज़ल,हाइकु, मुक्तक आदि My personal blog visit This link hindisahityalok.blogspot.com

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia
One comment
  1. बहुत खूब , शब्दों की जीवंत भावनाएं… सुन्दर चित्रांकन