गुरुवर का सम्मान

RAMESH SHARMA

रचनाकार- RAMESH SHARMA

विधा- दोहे

गुरु दिखलाये राह जब ,मिले नसीहत ज्ञान !
खिले उन्ही की सीख से, जीवन का उद्यान !!

दिया गुरूजी ने हमे, सदा यही पैगाम!
चलकर सच्ची राह पर,खूब कमाओ नाम! !

खडे हुए हैं साथ मे, चाहे व्यक्ति महान!
लेकिन पहले कीजिए,गुरुवर का सम्मान! !

बढें ज्ञान की राह पर ,रहें पाप से दूर!
गुरुवर का संदेश यह,रखिए याद जरूर! !

मिला गुरूजी से हमे, यही सदा उपदेश!
रहे केंद्रित लक्ष्य पर,अपना ध्यान रमेश! !
रमेश शर्मा

Views 9
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
RAMESH SHARMA
Posts 167
Total Views 2.6k
अपने जीवन काल में, करो काम ये नेक ! जन्मदिवस पर स्वयं के,वृक्ष लगाओ एक !! रमेश शर्मा

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia