गीत : प्यारभरा…..💝💝

Radhey shyam Pritam

रचनाकार- Radhey shyam Pritam

विधा- गीत

तुम जो मुस्कराते हो,बडे अच्छे लगते हो।
दिलरुबा दिलके तुम,बडे सच्चे लगते हो।।

तेरी तस्वीर मैंने तो,दिल में बसा ली है।
आँखों में प्यार की,मैंने काजल डाली है।
अब न कहना सनम,अजी!पीछे लगते हो।
दिलरुबा दिलके……………..।

होठों पर नाम तेरा ही,अब आने लगा है।
नगमें मिलन के दिल,मेरा सजाने लगा है।
आँखों से खुशी के तुम,आँसू बन बहते हो।
दिलरुबा दिलके………………।

हाथों पर नाम तेरा मैं,लिख चूम लेता हूँ।
आँखों में सपने तेरे,सजाकर झूम लेता हूँ।
रोमांच जगता दिल में,जब सामने आते हो।
दिलरुबा दिलके………………।

ये दिल अब तो सनम,घर तेरी यादों का।
समझ मनसूबा अब तो,तू मेरे इरादों का।
जग की हर शै फीकी,मुझे तुम ही भाते हो।
दिलरुबा दिलके……………….।
…….राधेयश्याम बंगालिया"प्रीतम"
…….💝💝💝💝💝💝💝💝

Views 10
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Radhey shyam Pritam
Posts 142
Total Views 6.5k

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia