गजानन मत-जाना

Rajesh Kumar Kaurav

रचनाकार- Rajesh Kumar Kaurav

विधा- गीत

मत जाना भगवान गजानन मत जाना ।
राह राह झगड़े होते है,
चक्का जाम अांदोलन होते है,
जानता करें पुकार गजानन मत-जाना ।
रोड़ टूट रहे,रेल पलट रहीं,
लेट लतीफ सब गाड़ी चल रहीं,
यात्रा में रेहो परेशान गजानन मत-जाना ।
राम रहीम से जेल जा रहे,
गुंडे साधु सा रूप बना रहे,
भक्त हो रहे वदनाम गजानन मत-जाना ।
गौशाला में गायें मर रहीं,
चारा पानी बिन तडफ रहीं,
चूहें कि कौन विसाद गजानन मत-
जाना ।
मूसलधार कही पानी बरसें,
कहीं कही पानी को तरसें,
मौसम को बिगडो मिजाज गजानन मत जाना ।
स्वछता अभियान चलो है,
राजा मंत्री सभी लगो है,
धरती स्वर्ग समान गजानन मत-जाना ।

राजेश कौरव "सुमित्र
बारहाबड़ा

Sponsored
Views 33
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Rajesh Kumar Kaurav
Posts 30
Total Views 1.3k

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia