कौन उत्तरदायी ?

Ranjana Mathur

रचनाकार- Ranjana Mathur

विधा- लेख

ब्लू व्हेल गेम से हो रही आत्महत्याएं और इस से उपजे भय के लिए कौन उत्तरदायी है ? उत्तर दायित्व हैं बच्चों के अभिभावक। पाश्चात्य संस्कृति व सभ्यता का अंधानुकरण करते करते पहले तो एकल परिवार हुए और एक संतान ही रखने का प्रचलन हो गया। माता-पिता का जाॅब में दिनभर घर से बाहर रहना, देर-सबेर घर आना और आने के बाद मांँ का दैनंदिनी कार्यों में उलझ जाना, थकान, चिड़चिड़ापन आदि बातें बच्चों को अभिभावकों से दूर कर रही हैं। मैंने आजकल अमूमन यह बहुत ज्यादा घरों में देखा है कि अक्सर माँ-बाप बच्चों से पीछा छुड़ाने के चक्कर में अपने सेलफोन उन्हें थमा कर छुट्टी पा जाते हैं फिर वे इसका क्या दुरुपयोग करते हैं या सदुपयोग उन्हें क्या।
नौकरों के भरोसे अथवा अक्सर एकाकी रहने वाले बच्चे कब किसके प्रभाव में आ जाते हैं यह माता-पिता को तब पता लगता है जब पानी सिर के ऊपर से गुजर चुका होता है। मेरा करबद्ध अनुरोध विशेष कर उन अभिभावकों से है जिनके नन्हे नौनिहाल घर में हैं। वे सचेत हो जाएं, सजग हो जाएं, जागरूक हो जाएं। नन्हे मुन्नों को प्यार दुलार दें। उनसे उनकी दिनभर की बातें साझा करें और जानकारी रखें कि वे किस किस के प्रभाव में हैं। जहाँ तक हो सके कक्षा पांच तक बच्चों को मोबाइल से दूर रखने का प्रयास करें।

—रंजना माथुर दिनांक 08 /09/2017
मेरी स्व रचित व मौलिक रचना
©

Sponsored
Views 61
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Ranjana Mathur
Posts 106
Total Views 3.6k
भारत संचार निगम लिमिटेड से रिटायर्ड ओ एस। वर्तमान में अजमेर में निवास। प्रारंभ से ही सर्व प्रिय शौक - लेखन कार्य। पूर्व में "नई दुनिया" एवं "राजस्थान पत्रिका "समाचार-पत्रों व " सरिता" में रचनाएँ प्रकाशित। जयपुर के पाक्षिक पत्र "कायस्थ टुडे" एवं फेसबुक ग्रुप्स "विश्व हिंदी संस्थान कनाडा" एवं "प्रयास" में अनवरत लेखन कार्य। लघु कथा, कहानी, कविता, लेख, दोहे, गज़ल, वर्ण पिरामिड, हाइकू लेखन। "माँ शारदे की असीम अनुकम्पा से मेरे अंतर्मन में उठने वाले उदगारों की परिणति हैं मेरी ये कृतियाँ।" जय वीणा पाणि माता!!!

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia