कोई आने वाला है…………………

Er Dev Anand

रचनाकार- Er Dev Anand

विधा- कविता

जब हर लाल में
तुम्हें "बालगोपाल"
नजर आए
जब कोई बाल
कर रहा हो जिद्
खाने को
दही मक्खन और मलाई
आए मुस्कान सहज होठों.पर
देख उसकी चतुराई ।
जब चल रहा
हो लाला
घुटनों पै
और बज रही हो पायल
उसकी पैरन में
देख आए तुम्हें हंसी,
जाए जाग भावना
मातृत्व की मन में ।
जब कभी सुनो
धुन बांसुरी की
जब हर धुन में
तुम्हें "मुरारी"
याद आए ।
समझ लेना प्रेम है
तुम्हें उनसे
और उनको है
प्रेम तुमसे
जो आने वाले हैं
कुछ दिनों में
मिलने
हम सबसे।

Views 22
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Er Dev Anand
Posts 4
Total Views 91

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia