कुछ मुक्तक

gopal pathak

रचनाकार- gopal pathak

विधा- शेर

तेरे इस अहसास को अहसान बना लू
तुझको जिन्दगी का महमान बना लू
पलकों पर रखु तुझको या दिल में सहज लू
लगता है तुझको अपना भगवान बना लू

इन्तहां ये प्यार का लेना हो तो और लो
दिल अगर न काम आये तो मांग मेरी जान लो

Sponsored
Views 10
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
gopal pathak
Posts 5
Total Views 111
मै साहित्य का अदना सा कलमकार हूँ माँ शारदे की कृपा से थोडा बहुत लिख लेता हूँ /मै ज्यादातर श्रंगार पर लिखता हूँ/और वीर लिखता हूँ/

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia