करवाचौथ

तेजवीर सिंह

रचनाकार- तेजवीर सिंह "तेज"

विधा- मुक्तक

🌹🌻 सुहाग पर्व 🌻🌹

चौथ के चन्द्रमा अर्ज सुन लीजिए।
पूर्ण मन के मनोरथ सकल कीजिए।
भाव से आपको पूजती हूँ सदा।
अब तो भक्ति पे मेरी प्रभो रीझिए।

🙏एवमस्तु 🙏
🙏तेज✏मथुरा✍

Sponsored
इस पेज का लिंक-
Author
तेजवीर सिंह
Posts 89
Total Views 1.4k
नाम - तेजवीर सिंह उपनाम - 'तेज' पिता - श्री सुखपाल सिंह माता - श्रीमती शारदा देवी शिक्षा - एम.ए.(द्वय) बी.एड. रूचि - पठन-पाठन एवम् लेखन निवास - 'जाट हाउस' कुसुम सरोवर पो. राधाकुण्ड जिला-मथुरा(उ.प्र.) सम्प्राप्ति - ब्रजभाषा साहित्य लेखन,पत्र-पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन तथा जीविकोपार्जन हेतु अध्यापन कार्य।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia