आशा और कोशिश

Bikash Baruah

रचनाकार- Bikash Baruah

विधा- कविता

आशा की उड़ान सभी
भरते है मगर हर कोई
मंजिल तक पहुंचते नहीं,
रह जाते है जो दूर
मंजिल से अपनी
कर नही पाते वे
जीवन में कुछ भी,
फिर भी आशा की
पतंग उड़ाने की कोशिश
क्यों न करे सभी,
हार जीत तो जीवन के
दो पहलू है महज
कोशिश ही सबसे बड़ी
मंत्र है जीवन की ।

Sponsored
Views 12
इस पेज का लिंक-
Recommended
Author
Bikash Baruah
Posts 86
Total Views 485
मैं एक अहिंदी भाषी हिंदी नवलेखक के रूप मे साहित्य साधना की कोशिश कर रहा हू और मेरी दो किताबें "प्रतिक्षा" और "किसके लिए यह कविता" प्रकाशित हो चुकी है ।

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देंं


हिंदी साहित्यपीडिया का फेसबुक ग्रुप ज्वाइन करें और जुड़ें दुनिया भर के साहित्यकारों एवं पाठकों से- facebook.com/groups/hindi.sahityapedia